अंबाती रायडू की बॉलिंग पर ICC ने लगाया प्रतिबंध

raydu
अंबाती रायडू की बॉलिंग पर ICC ने लगाया प्रतिबंध

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने सोमवार को भारतीय ऑलराउंडर अंबाती रायडू को इंटरनेशनल मैच में गेंदबाजी करने से निलंबित कर दिया। दरअसल, ऑस्ट्रेलिया दौरे पर सिडनी वनडे में पार्ट टाइम बॉलिंग करने वाले अंबति रायडू के गेंदबाजी एक्शन की आधिकारिक शिकायत की गई थी।

Ambati Rayudu Suspended From Bowling In International Cricket :

रायडू ने सिडनी वनडे मैच के दौरान दो ओवर गेंदबाजी की थी और बिना किसी सफलता उन्होंने 13 रन दिए थे. यह निलंबन तब तक जारी रहेगा, जब तक उनका गेंदबाजी एक्शन दोबारा टेस्ट नहीं किया जाता और वह लीगल एक्शन से गेंदबाजी का प्रदर्शन नहीं करते।

आईसीसी ने अपने अनुच्छेद 4.2 के अनुसार इस कार्यवाई को बढ़ाया है और रायडू को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से निलंबित कर दिया है। हालांकि आपको बता दें कि आईसीसी के नियमों के अनुसार जब किसी भी खिलाड़ी की गेंदबाजी के एक्शन को संदिग्ध पाया जाता है तो उसे 14 दिनों के अंदर टेस्ट देना होता है। अब रायडू पर यह प्रतिबंध तब तक लगा रहेगा जब तक उनके गेंदबाजी के एक्शन को वैध नहीं पाया जाता है।

रायडू टीम इंडिया के लिए मिडिल ऑर्डर में बल्लेबाजी करते हैं, लेकिन जरूरत पड़ने पर वह टीम के लिए पार्ट टाइम ऑफ स्पिन गेंदबाजी भी करते थे। अंबति रायडू ने 46 वनडे इंटरनेशनल मैचों में 3 विकेट हासिल किए हैं। इसके अलावा वह 97 फर्स्ट क्लास मैचों में 10 विकेट और 151 लिस्ट A मैचों में 13 विकेट झटक चुके हैं।

आईसीसी के नियमों के मुताबिक गेंद फेंकने के दौरान अगर किसी गेंदबाज का हाथ 15 डिग्री से ज्यादा मुड़ता है तो वह एक्शन अवैध माना जाता है। ऐसे में उस गेंदबाज पर गेंदबाजी करने पर प्रतिबंध भी लग सकता है। रायडू ने अपना बायो मैकेनिक एनालिसिस टेस्ट नहीं कराया जिसके बाद आईसीसी ने उन्हें यह बड़ा झटका दिया है।

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने सोमवार को भारतीय ऑलराउंडर अंबाती रायडू को इंटरनेशनल मैच में गेंदबाजी करने से निलंबित कर दिया। दरअसल, ऑस्ट्रेलिया दौरे पर सिडनी वनडे में पार्ट टाइम बॉलिंग करने वाले अंबति रायडू के गेंदबाजी एक्शन की आधिकारिक शिकायत की गई थी। रायडू ने सिडनी वनडे मैच के दौरान दो ओवर गेंदबाजी की थी और बिना किसी सफलता उन्होंने 13 रन दिए थे. यह निलंबन तब तक जारी रहेगा, जब तक उनका गेंदबाजी एक्शन दोबारा टेस्ट नहीं किया जाता और वह लीगल एक्शन से गेंदबाजी का प्रदर्शन नहीं करते। आईसीसी ने अपने अनुच्छेद 4.2 के अनुसार इस कार्यवाई को बढ़ाया है और रायडू को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से निलंबित कर दिया है। हालांकि आपको बता दें कि आईसीसी के नियमों के अनुसार जब किसी भी खिलाड़ी की गेंदबाजी के एक्शन को संदिग्ध पाया जाता है तो उसे 14 दिनों के अंदर टेस्ट देना होता है। अब रायडू पर यह प्रतिबंध तब तक लगा रहेगा जब तक उनके गेंदबाजी के एक्शन को वैध नहीं पाया जाता है। रायडू टीम इंडिया के लिए मिडिल ऑर्डर में बल्लेबाजी करते हैं, लेकिन जरूरत पड़ने पर वह टीम के लिए पार्ट टाइम ऑफ स्पिन गेंदबाजी भी करते थे। अंबति रायडू ने 46 वनडे इंटरनेशनल मैचों में 3 विकेट हासिल किए हैं। इसके अलावा वह 97 फर्स्ट क्लास मैचों में 10 विकेट और 151 लिस्ट A मैचों में 13 विकेट झटक चुके हैं। आईसीसी के नियमों के मुताबिक गेंद फेंकने के दौरान अगर किसी गेंदबाज का हाथ 15 डिग्री से ज्यादा मुड़ता है तो वह एक्शन अवैध माना जाता है। ऐसे में उस गेंदबाज पर गेंदबाजी करने पर प्रतिबंध भी लग सकता है। रायडू ने अपना बायो मैकेनिक एनालिसिस टेस्ट नहीं कराया जिसके बाद आईसीसी ने उन्हें यह बड़ा झटका दिया है।