मौके पर नहीं पहुंची एम्बुलेंस सेवा, मां ने सड़क पर ही बच्चे ​को दिया जन्म

prasoota

लखनऊ। शासन और प्रशासन दावे तो बड़े बड़े करता है लकिन इन दावों की सच्चाई तो खोखली ही होती है। आज हमारे समाज में ऐसी-ऐसी घटनाएं हो रही हैं जो मानवता को पूरी तरह से तार-तार कर देती है। ऐसी स्वास्थ्य विभाग की सच्चाई हम अपके सामने लेकर आ रहे हैं। जो पूरी तरह से अमानवीय… शर्मनाक ! है।

Ambulance Service Not On The Spot The Mother Gave Birth To The Child On The Road :

हमीर पुर जिले से एक घटना सामने आई है। छिबौली और महरौल के बीच सड़क पर अस्पताल जाते समय सड़क पर प्रसूता ने बच्चे को जन्म दिया है। प्रसूता (विनीता) के पति का नाम कैलाश बताया है जो कि बंदवा की रहने वाली हैं।

राहगीर यागवेन्द्र यादव ने एम्बुलेंस सेवा नम्बर 102 पर बात करते हुए सारी घटना की जानकारी दी लकिन उनतक कोई मदद नहीं पहुंची। और यह पूछा जा रहा है कि इसका पती कौन है, इसका बच्चे कितने हैं।

लखनऊ। शासन और प्रशासन दावे तो बड़े बड़े करता है लकिन इन दावों की सच्चाई तो खोखली ही होती है। आज हमारे समाज में ऐसी-ऐसी घटनाएं हो रही हैं जो मानवता को पूरी तरह से तार-तार कर देती है। ऐसी स्वास्थ्य विभाग की सच्चाई हम अपके सामने लेकर आ रहे हैं। जो पूरी तरह से अमानवीय... शर्मनाक ! है। https://twitter.com/1Hemanttiwari/status/1304324777813794816?s=20 हमीर पुर जिले से एक घटना सामने आई है। छिबौली और महरौल के बीच सड़क पर अस्पताल जाते समय सड़क पर प्रसूता ने बच्चे को जन्म दिया है। प्रसूता (विनीता) के पति का नाम कैलाश बताया है जो कि बंदवा की रहने वाली हैं। राहगीर यागवेन्द्र यादव ने एम्बुलेंस सेवा नम्बर 102 पर बात करते हुए सारी घटना की जानकारी दी लकिन उनतक कोई मदद नहीं पहुंची। और यह पूछा जा रहा है कि इसका पती कौन है, इसका बच्चे कितने हैं।