ट्रंप की बेटी इवांका संभाल सकती हैं वर्ल्ड बैंक की कमान

1
ट्रंप की बेटी इवांका संभाल सकती हैं वर्ल्ड बैंक की कमान

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप वर्ल्ड बैंक की अगली अध्यक्ष बन सकती हैं। वर्ल्ड बैंक के मौजूदा अध्यक्ष जिम योंग किम ने सोमवार को ऐलान किया कि वे जनवरी के आखिरी तक अपना पद छोड़ देंगे इवांका अभी वाइट हाउस की सलाहकार हैं।

America Ivanka Trump Being Considered As New World Bank Chief :

इवांका फिलहाल व्हाइट हाउस की सलाहकार हैं। उनके अलावा वर्तमान ट्रेजरी ऑफिसर डेविड मलपास, पूर्व राजदूत निक्की हेली, इंटरनेशनल डेवलपमेंट के हेड मार्क ग्रीन भी वर्ल्ड बैंक अध्यक्ष की रेस में शामिल बताए जा रहे हैं।

वर्ल्ड बैंक बोर्ड ने गुरुवार को कहा था कि नए अध्यक्ष के लिए अगले महीने से नॉमिनेशन स्वीकार किए जाएंगे और अप्रैल के मध्य तक नए अध्यक्ष की नियुक्ति कर दी जाएगी। गौरतलब है कि मौजूदा अध्यक्ष जिम योंग किम का कार्यकाल अभी तीन साल शेष था। बताया जा रहा है कि वे जलवायु परिवर्तन पर ट्रंप की नीतियों से खुश नहीं थे।

आपको बता दें कि वर्ल्ड बैंक पर हमेशा से अमेरिका का दबदबा रहा है। अमेरिका ही वर्ल्ड बैंक का सबसे बड़ा हिस्सेदार भी है। यहीं नहीं वर्ल्ड बैंक के आज तक जितने भी अध्यक्ष हुए हैं, वे सभी अमेरिकी ही रहे हैं। इस बात को लेकर दुनिया के दूसरे देश शिकायत करते रहे हैं।

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप वर्ल्ड बैंक की अगली अध्यक्ष बन सकती हैं। वर्ल्ड बैंक के मौजूदा अध्यक्ष जिम योंग किम ने सोमवार को ऐलान किया कि वे जनवरी के आखिरी तक अपना पद छोड़ देंगे इवांका अभी वाइट हाउस की सलाहकार हैं।इवांका फिलहाल व्हाइट हाउस की सलाहकार हैं। उनके अलावा वर्तमान ट्रेजरी ऑफिसर डेविड मलपास, पूर्व राजदूत निक्की हेली, इंटरनेशनल डेवलपमेंट के हेड मार्क ग्रीन भी वर्ल्ड बैंक अध्यक्ष की रेस में शामिल बताए जा रहे हैं।वर्ल्ड बैंक बोर्ड ने गुरुवार को कहा था कि नए अध्यक्ष के लिए अगले महीने से नॉमिनेशन स्वीकार किए जाएंगे और अप्रैल के मध्य तक नए अध्यक्ष की नियुक्ति कर दी जाएगी। गौरतलब है कि मौजूदा अध्यक्ष जिम योंग किम का कार्यकाल अभी तीन साल शेष था। बताया जा रहा है कि वे जलवायु परिवर्तन पर ट्रंप की नीतियों से खुश नहीं थे।आपको बता दें कि वर्ल्ड बैंक पर हमेशा से अमेरिका का दबदबा रहा है। अमेरिका ही वर्ल्ड बैंक का सबसे बड़ा हिस्सेदार भी है। यहीं नहीं वर्ल्ड बैंक के आज तक जितने भी अध्यक्ष हुए हैं, वे सभी अमेरिकी ही रहे हैं। इस बात को लेकर दुनिया के दूसरे देश शिकायत करते रहे हैं।