चीन और इटली से आगे निकला अमेरिका, एक दिन में 16,000 लोग कोरोना की चपेट में

us
चीन और इटली से आगे निकला अमेरिका, एक दिन में 16,000 लोग कोरोना की चपेट में

नई दिल्ली। अमेरिका ने कोरोना वायरस के संक्रमित मामलों की संख्या में चीन को भी पीछे छोड़ दिया है। अबतक कोरोना की चपेट में आकर दुनिया में 24,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। सूत्रों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में अमेरिका में 16,000 लोग कोरोना की चपेट में आ गए हैं और वहां कुल आंकड़ा 85,000 के पार पहुंच चुका है। तीन बड़े देशों की तुलना करें तो वहां संक्रमित लोगों की संख्या कुछ इस तरह है।

America Us Overtakes China With Over 82000 Coronavirus Cases :

देश/संक्रमित लोगों की संख्या

अमेरिका 85,088 , चीन 81,285 , इटली 80,589

पीटीआई ने वर्ल्डोमीटर के आंकड़ों के मुताबिक बताया है कि अमेरिका में एक सप्ताह पहले सिर्फ 8000 कन्फर्म केस थे, जो आज 85,088 तक पहुंच गया है। यह एक सप्ताह में 10 गुना बढ़ा है. इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि कोरोना कितनी तेजी से पूरी दुनिया में पैर पसार रहा है।

न्यूयॉर्क इस बीमारी के एक प्रमुख केंद्र के रूप में उभरा है। शहर के विशाल कन्वेंशन सेंटर को अस्पताल में बदला जा रहा है। राज्य में 350 से अधिक मौतें हो चुकी हैं। यूरोप में स्पेन ऐसा देश है, जहां इसका प्रकोप सबसे तेजी से फैल रहा है।

वहीं, दुनियाभर में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या गुरुवार को पांच लाख के पास पहुंच गई। इस बीच 33 लाख अमेरिकियों ने एक सप्ताह के अंदर बेरोजगारी लाभ के लिए आवेदन किया है। इससे दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था को हुए नुकसान का पता लगता है।

इस बीमारी के कारण यूरोप और न्यूयॉर्क की स्वास्थ्य सेवाएं चरमरा गयी हैं। अमेरिका में कारोबारियों,अस्पतालों और सामान्य नागरिकों की मदद करने के लिए अभूतपूर्व 2,200 अरब डॉलर के आर्थिक पैकेज को मंजूरी दी गयी है। इस योजना में हर वयस्क को 1,200 डॉलर और बच्चे को 500 डॉलर दिए जाएंगे।

दुनिया भर में कम से कम 2.8 अरब लोग यानी धरती की एक तिहाई से अधिक आबादी पर लॉकडाउन की वजह से यात्रा करने पर रोक लगी हुई है। उधर, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने वायरस के खिलाफ लड़ाई में कीमती समय बर्बाद करने के लिए दुनिया के नेताओं को फटकार लगाई और कहा कि हमने पहले मौके को गंवा दिया और अब यह दूसरा अवसर है जिसे नहीं गंवाना चाहिए। इस बीमारी के कारण 22,000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

नई दिल्ली। अमेरिका ने कोरोना वायरस के संक्रमित मामलों की संख्या में चीन को भी पीछे छोड़ दिया है। अबतक कोरोना की चपेट में आकर दुनिया में 24,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। सूत्रों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में अमेरिका में 16,000 लोग कोरोना की चपेट में आ गए हैं और वहां कुल आंकड़ा 85,000 के पार पहुंच चुका है। तीन बड़े देशों की तुलना करें तो वहां संक्रमित लोगों की संख्या कुछ इस तरह है। देश/संक्रमित लोगों की संख्या अमेरिका 85,088 , चीन 81,285 , इटली 80,589 पीटीआई ने वर्ल्डोमीटर के आंकड़ों के मुताबिक बताया है कि अमेरिका में एक सप्ताह पहले सिर्फ 8000 कन्फर्म केस थे, जो आज 85,088 तक पहुंच गया है। यह एक सप्ताह में 10 गुना बढ़ा है. इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि कोरोना कितनी तेजी से पूरी दुनिया में पैर पसार रहा है। न्यूयॉर्क इस बीमारी के एक प्रमुख केंद्र के रूप में उभरा है। शहर के विशाल कन्वेंशन सेंटर को अस्पताल में बदला जा रहा है। राज्य में 350 से अधिक मौतें हो चुकी हैं। यूरोप में स्पेन ऐसा देश है, जहां इसका प्रकोप सबसे तेजी से फैल रहा है। वहीं, दुनियाभर में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या गुरुवार को पांच लाख के पास पहुंच गई। इस बीच 33 लाख अमेरिकियों ने एक सप्ताह के अंदर बेरोजगारी लाभ के लिए आवेदन किया है। इससे दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था को हुए नुकसान का पता लगता है। इस बीमारी के कारण यूरोप और न्यूयॉर्क की स्वास्थ्य सेवाएं चरमरा गयी हैं। अमेरिका में कारोबारियों,अस्पतालों और सामान्य नागरिकों की मदद करने के लिए अभूतपूर्व 2,200 अरब डॉलर के आर्थिक पैकेज को मंजूरी दी गयी है। इस योजना में हर वयस्क को 1,200 डॉलर और बच्चे को 500 डॉलर दिए जाएंगे। दुनिया भर में कम से कम 2.8 अरब लोग यानी धरती की एक तिहाई से अधिक आबादी पर लॉकडाउन की वजह से यात्रा करने पर रोक लगी हुई है। उधर, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने वायरस के खिलाफ लड़ाई में कीमती समय बर्बाद करने के लिए दुनिया के नेताओं को फटकार लगाई और कहा कि हमने पहले मौके को गंवा दिया और अब यह दूसरा अवसर है जिसे नहीं गंवाना चाहिए। इस बीमारी के कारण 22,000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।