1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. अमेठी मेरा घर है, यहां से मुझे कोई नहीं अलग कर सकता है, ‘भाजपा हटाओ, महंगाई भगाओ’ पद यात्रा में बोले राहुल

अमेठी मेरा घर है, यहां से मुझे कोई नहीं अलग कर सकता है, ‘भाजपा हटाओ, महंगाई भगाओ’ पद यात्रा में बोले राहुल

Rahul Gandhi in Amethi: कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) भाजपा हटाओ महंगाई भगाओ पद यात्रा में शामिल होने के लिए अमेठी (Amethi) पहुंचे हैं। कांग्रेस की पदयात्रा में भारी भीड़ जुटी हुई है। राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के अमेठी पहुंचने के बाद कांग्रेस कार्यकर्ता बेहद ही उत्साहित दिखे। कार्यकर्ताओं संबोधित करते राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा कि कुछ दिन पहले प्रियंका मेरे पास आईं और उनसे कहा कि लखनऊ चलो।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Rahul Gandhi in Amethi: कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) भाजपा हटाओ महंगाई भगाओ पद यात्रा में शामिल होने के लिए अमेठी (Amethi) पहुंचे हैं। कांग्रेस की पदयात्रा में भारी भीड़ जुटी हुई है। राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के अमेठी पहुंचने के बाद कांग्रेस कार्यकर्ता बेहद ही उत्साहित दिखे। कार्यकर्ताओं संबोधित करते राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा कि कुछ दिन पहले प्रियंका मेरे पास आईं और उनसे कहा कि लखनऊ चलो।

पढ़ें :- Ramcharitmanas controversy : रामचरितमानस विवाद पर बोले CM भूपेश बघेल- वाद-विवाद करना गलत है, जो अच्छी चीजें हैं उसको ग्रहण कर लीजिए

इस पर मैंने कहा कि लखनऊ जाने से पहले मैं अपने घर जाना चाहता हूं। उन्होंने कहा कि अमेठी (Amethi) मेरा घर है। मुझे यहां से कोई अलग नहीं कर सकता है। उन्होंने कहा कि मैं 2004 में राजनीति में आया और पहला चुनाव यहीं से लड़ा। इस दौरान राहुल ने महंगाई और बेरोजगारी का भी मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि महंगाई और बेरोजगारी के सवालों पर न मुख्यमंत्री जवाब देते हैं और न ही प्रधानमंत्री।

उन्होंने कहा कि कुछ दिनों पहले पीएम मोदी (Pm Modi) जी गंगाजी में स्नान कर रहे थे। मगर वो देश को यह नहीं कह सकते हैं कि देश में रोजगार क्यों नहीं पैदा हो रहे हैं? रोजगार खत्म क्यों हो गए हैं? हमारे देश के युवाओं को रोजगार क्यों नहीं मिल पा रहा है? इसके साथ ही उन्होंने पूछा कि इतनी तेजी से महंगाई क्यों बढ़ी है।

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने अपने दो तीन पूंजीपति मित्रों के हवाले सबकुछ कर रखा है। नरेंद्र मोदी काले कृषि कानून कानून लाए और एक साल बाद माफी मांगते हुए कानून वापस ले लिए। देश की सुरक्षा खतरे में हैं चीन भारत के प्रदेश में गांव बसा रहा है और मोदी जी चुप हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...