यूपी: केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के निर्देश पर जागा प्रशासन, जमीन कब्जा मुक्त

अमेठी। यूपी के अमेठी जनपद के तिलोई-इन्हौना मार्ग पर लोधवरिया नाईया नाला के पास करीब 69 करोड़ की लागत से एनएचआरएम के तहत बन रहे 200 बेड के अस्पताल की जमीन न मिल पाने का विवाद आज प्रशासन ने हल कर दिया।

अस्पताल के ठीक सामने पड़ रही जीएस लैण्ड पर कुछ लोगों ने अवैध कब्जा कर रखा था। बुधवार को प्रशासन ने सख्त कार्यवाही करते हुए अवैध कब्जे को हटा दिया। प्रशासन का बुलडोजर चला और अतिक्रमण ध्वस्त हो गया। इस अवैध कब्जे के चलते जिन लोगो की जमीन अस्पताल निर्माण में चली गई है। उन्हें जमीन नही मिल पा रही थी, बुधवार को प्रशासन मय फोर्स मौके पर पहुंचा और अवैध कब्जे को ढहा दिया।

{ यह भी पढ़ें:- महकमा मेहरबान तो सरकारी भवन बना प्राइवेट 'गोदाम' }

इस मुद्दे से रूबरू हुयी थी स्मृति –

{ यह भी पढ़ें:- ब्लड कैंसर पीड़िता से तीन नहीं छह लोगों ने किया था गैंगरेप, मंत्री ने इंस्पेक्टर को लगाई फटकार }

8 अप्रैल को तिलोई विधानसभा के दौरे पर आई केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के सामने भी जमीन का मामला उठा था। जिसे मंत्री ने गंम्भीरता से लेते हुए अमेठी जिला प्रशासन को समस्या का समाधान करने को कहा था। बुधवार सुबह राजस्व व पुलिस टीम द्वारा अस्पताल मे बन रही सारी बाधाओं को समाप्त कर दिया।

एसडीएम तिलोई अशोक कुमार शुक्ला, तहसीलदार, सीओ डा. बीनू सिंह समेत सर्किल के चारो थानों की पुलिस, महिला थाना और राजस्व विभाग के लोग मौके पर मौजूद रहे।

{ यह भी पढ़ें:- खबर का असर: 1000 करोड़ की बंद अमृत योजनाओं की पुनर्समीक्षा करेगा जल निगम }

रिपोर्ट-राम मिश्रा

Loading...