अमेठी: लापरवाही पर प्रधानाचार्य बर्खास्त, विद्यालय पर लगा ताला

अमेठी: लापरवाही पर प्रधानाचार्य बर्खास्त, विद्यालय पर लगा ताला
अमेठी: लापरवाही पर प्रधानाचार्य बर्खास्त, विद्यालय पर लगा ताला

अमेठी। अमेठी के तिलोई ब्लाक के अन्तगर्त जूनियर हाई पूरे लगड़ा मजरे पाकर गांव मे तैनात प्रधानाध्यापक प्रवीण कुमार यादव को घोर लापरवाही के चलते खण्ड शिक्षाधिकारी तिलोई को बर्खाती की संस्तुति कर उच्च अधिकारी को सूचना प्रेषित करने के लिये मजबूर होना पड़ा।

बताते चले पूरे लगड़ा गांव मजरे पाकर सूबे के आवास विकास एवम् कौशल विकास राज्य मंत्री सुरेश पासी का पैतृक गांव है इससे प्राथमिक शिक्षा व्यवस्था की कलई खुलती नजर आ रही है। जहाँ एक ओर प्रदेश सरकार गरीब घर के नन्हे मुन्हे बच्चों को ड्रेस, जूता, मोजा व बैग,स्वेटर ,माध्यान जैसी व्यवस्था देने के लिये प्रयासरत है। वही दूसरी ओर स्कूल आने का मुख्य मकसद शिक्षा विभाग की लापरवाही से उन्हे नसीब नही हो पा रही है।

{ यह भी पढ़ें:- सगे चाचा पर चार वर्षीय बच्चे के अपहरण का आरोप, जांच में जुटी पुलिस }

खण्ड शिक्षा के० पी० शुक्ला की माने तो प्रवीण कुमार काफी दिनो से स्कूल नही आ रहे थे और इनके द्धारा पूर्व मे प्राथमिक विद्यालय पूरे मठिया मे बाउंड्री वाल का 1लाख 41हजार रुपया तथा सबितापुर प्राथमिक विद्यालय मे हेराफेरी की गयी इतना ही वर्तमान तैनाती स्थल पूरे लगड़ा मे 70 हजार रुपये का गबन का अरोप है और महीनों से विद्यालय से गायब है पढ़ाने का दायित्व रसोईया निभा रही है। विद्यालय मे दो अध्यापक थे जिसमे शिक्षामित्र को प्राथमिक विद्यालय सम्बृद्य कर दिया गया है, जिसमें मात्र दस बच्चे नामांकित है।

यहां पर सवाल यह उठता है कि यदि प्रधानाध्यापक महीनों से विद्यालय नही आते तो क्यों नही उनके ऊपर कार्यवाही की गयी और दागी छबि होने के बाद क्यों नही वित्तीय अधिकार छीने गये फिलहाल इनकी बर्खास्तगी की संतुति खण्ड शिक्षाधिकारी द्वारा कर दी गयी।

{ यह भी पढ़ें:- अमेठी: 3 दिन से लापता युवक का कुएं में मिला शव, जांच में जुटी पुलिस }

अमेठी। अमेठी के तिलोई ब्लाक के अन्तगर्त जूनियर हाई पूरे लगड़ा मजरे पाकर गांव मे तैनात प्रधानाध्यापक प्रवीण कुमार यादव को घोर लापरवाही के चलते खण्ड शिक्षाधिकारी तिलोई को बर्खाती की संस्तुति कर उच्च अधिकारी को सूचना प्रेषित करने के लिये मजबूर होना पड़ा। बताते चले पूरे लगड़ा गांव मजरे पाकर सूबे के आवास विकास एवम् कौशल विकास राज्य मंत्री सुरेश पासी का पैतृक गांव है इससे प्राथमिक शिक्षा व्यवस्था की कलई खुलती नजर आ रही है। जहाँ एक ओर…
Loading...