1. हिन्दी समाचार
  2. चीन से तनाव के बीच रूस ने कहा-भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का स्थायी सदस्य बनने का हकदार

चीन से तनाव के बीच रूस ने कहा-भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का स्थायी सदस्य बनने का हकदार

Amid Tensions With China Russia Said India Deserves To Become Permanent Member Of Un Security Council

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। चीन से चल रहे तनाव के बीच रूस भारत के समर्थन में उतरा है। रूस-भारत-चीन के विदेश मंत्रियों के बीच आभासी बैठक शुरू हो गयी है। इस बीच रूस ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषठ में भारत की स्थाई सदस्यता का जोरदार तरीके से समर्थन किया है। रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने कहा कि आज हम संयुक्त राष्ट्र में सुधार की समस्या पर बात करते हैं और भारत संयुक्त राष्ट्र में स्थाई सदस्यता के लिए मजबूत नॉमिनी है।

पढ़ें :- यूपी: गैंगरेप के बाद दरिंदों ने पार की थी हैवानियत की सारी हदें, काटी जीभ, तोड़ी गर्दन ...

हम भारत की उम्मीदवारी का समर्थन करते हैं। इस दौरान रूस के विदेश मंत्री ने चीन के साथ वास्तविक नियंत्रण रेखा पर लद्दाख में चल रहे तनातनी का भी जिक्र किया है। उन्होंने कहा है कि इसमें किसी तीसरे पक्ष की दखल की जरूरत नहीं है। दोनों देश आपस में इस मामले को सुलझा लेंगे। रूस के विदेश मंत्री ने कहा कि हमें उम्मीद है कि स्थिति लगातार शांतिपूर्ण रहेगी और शांतिपूर्ण इसका समाधान किया जाएगा।

रूसी विदेश मंत्री ने आगे कहा कि नई दिल्ली और बीजिंग ने शांतिपूर्ण समाधान को लेकर अपनी प्रतिबद्धता दिखाई है। उन्होंने रक्षा अधिकारियों, विदेश मंत्रियों के स्तर पर बात की है और दोनों पक्षों ने ऐसा कोई बयान नहीं दिया है जिससे यह संकेत मिलता हो कि कोई कूटनीतिक समाधान न चाह रहा हो। वहीं, विदेश मंत्री एस जयशंकर ने मंगलवार को रूस-भारत-चीन (आरआईसी) के विदेश मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लिया।

उन्होंने इस दौरान अन्य देशों से कहा कि वे अंतरराष्ट्रीय कानून का सम्मान करें और साझेदारों के वैध हितों को पहचाने। चीन के विदेश मंत्री वांग यी और रूस के अपने समकक्षीय सर्गेई लावरोव के साथ बातचीत के दौरान एस. जयशंकर ने दुनिया के शक्तिशाली देशों से कहा कि वे हर मायने में उदाहरण पेश करें। भारत-चीन सीमा विवाद का बिना जिक्र किए विदेश मंत्री ने अपनी राय व्यक्त करते हुए कहा कि देशों को अंतरराष्ट्रीय कानून का सम्मान करना चाहिए और साझेदारों के वैध हितों की पहचान करे।

पढ़ें :- वीडियो दिखाकर देवर से भाभी करती थीं अश्लील हरकतें, भाइयों के काम पर जाने के बाद करती थीं मजबूर

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...