‘जन रक्षा यात्रा’ में बोले अमित शाह, कमल खिलने से नहीं रोक सकते वाम-शासित राज्य

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने केरल में भाजपा-आरएसएस के कार्यकर्ताओं की हत्या को लेकर कहा, ऐसा राज्य में भाजपा के विस्तार को रोकने के लिए और लोगों के बीच भय पैदा करने के लिए किया जा रहा है। एक जनरक्षा यात्रा को संबोधित करते हुए शाह ने केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन पर आरोप लगाया कि ये राजनीति हत्याएं उनके आदेश पर हो रही हैं।

भाजपा के अभियान ‘जन रक्षा यात्रा’ की दिल्ली इकाई को संबोधित करते हुए अमित शाह ने इस बात पर जोर दिया कि डराने-धमकाने की कोई भी सीमा, वाम-शासित राज्य में कमल को खिलने से रोक नहीं सकती। शाह ने कहा, जब से केरल में माकपा (मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी) की सरकार बनी है, तब से 120 से ज्यादा भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या की जा चुकी है। उन्होंने बड़ी बेरहमी से कार्यकर्ताओं की हत्या की है।

{ यह भी पढ़ें:- मोदी का गुजरात मॉडल फंसा जातीय समीकरण में, कांग्रेस को फायदा }

शाह ने कहा कि जब एक आदमी को एक गोली से मारा जा सकता है, तो फिर भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को टुकड़े-टुकड़े क्यों काटा जा रहा है? शाह, दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी, उपाध्यक्ष और दिल्ली के प्रभारी श्याम जाजू, पार्टी के राष्ट्रीय पदाधिकारियों, सांसदों, विधायकों, एमसीडी नेताओं और पार्टी के राज्य पदाधिकारियों के साथ मौजूद थे।

भाजपा अध्यक्ष ने यह भी कहा, वामपंथी पार्टियां जितना अधिक हिंसा की राजनीति में शामिल होंगी, कमल का फूल उतना ही अधिक खिलेगा। उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं के लिए कहा, उनकी पार्टी एक विचारधारा है और वे राष्ट्र और पार्टी की विचारधारा के लिए बलि देने से डरे नहीं। उन्होंने आरोप लगाया, केरल में भाजपा के लोग मारे गए, कोई गिरफ्तारी नहीं की जाती है क्योंकि ये सभी हत्याएं मुख्यमंत्री के आदेश पर की जा रही हैं।

{ यह भी पढ़ें:- 22 साल बाद कांग्रेस तीन नौजवानों के साथ जीतेगी चुनाव....? }