अमित शाह, लालू व ओवैसी के खिलाफ आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज

पटना। चुनाव प्रचार के दौरान विवादित बयान को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह, राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद तथा ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के नेता अकबरुद्दीन ओवैसी के खिलाफ बिहार के विभिन्न थानों में आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन करने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की गई है।

पुलिस के मुताबिक लालू द्वारा भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को ‘नरभक्षी’ कहने को लेकर पटना के सचिवालय थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विकास वैभव ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि लालू प्रसाद के खिलाफ आदर्श चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन तथा सरकारी दिशा-निर्देशों को धता बताने के आरोप में भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत सचिवालय थाना में प्राथमिकी दर्ज की गई है। 

बता दें कि लालू ने एक अक्टूबर को अपने पटना स्थित आवास से निकलते समय पत्रकारों से बातचीत केदौरान गुजरात दंगों व फर्जी मुठभेड़ के मामलों का जिक्र करते हुए शाह को नरभक्षी बताया था और कहा था, “पता लगाया जाए कि यह तड़ीपार किन-किन अपराधों में जेल गया था।”

वहीं 30 सितंबर को बेगूसराय में अमित शाह द्वारा लालू प्रसाद को ‘चारचोर’ कहे जाने पर भी शाह के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। राज्य निर्वाचन आयोग के अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी आऱ लक्ष्मणन ने यहां मंगलवार को बताया कि बेगूसराय के सिंघौल सहायक थाना में शाह के खिलाफ आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की गई है।

उन्होंने बताया कि एआईएमआईएम के नेता अकबरुद्दीन ओवैसी को भी आदर्श चुनाव आचार संहिता के प्रावधानों के प्रतिकूल पाते हुए हुए लोक अधिनियम एवं भारतीय दंड संहिता के विभिन्न धाराओं के तहत कोचाधामन थाना में प्राथमिकी दर्ज की गई है।

उल्लेखनीय है कि ओवैसी ने किशनंगज के कोचाधामन विधानसभा क्षेत्र के सोनाथा उच्च विद्यालय में चार अक्टूबर को एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शैतान और दरिंदा कहा था।