TMC सांसद बोले – 72 घंटे के अंदर बंगाल से माफी मांगें अमित शाह

ममता बनर्जी, Mamata Banerjee, Amit shah, BJP, TMC, तृणमूल कांग्रेस
ममता बनर्जी, Mamata Banerjee, Amit shah, BJP, TMC, तृणमूल कांग्रेस

नई दिल्ली। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार यानी 11 अगस्त को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ‘वोट बैंक की राजनीति’ के कारण असम में राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) का विरोध किया है शाह के भाषण के बाद पश्चिम बंगाल में सत्तारुढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के सांसद डेरेक ओ ब्राइन ने आपत्ति जताई। जिसके बाद टीएमसी ने अमित शाह को 72 घंटे का अल्टीमेटम देते हुए माफी मांगने को कहा है।

Amit Shah Will Not Apologize To Bengal Within 72 Hours Otherwise Legal Action Tmc :

शाह माफी नहीं मांगेंगे तो हम कार्रवाई करेंगे : टीएमसी

पार्टी नेता डेरेक ओ ब्रायन ने कहा है कि बीजेपी अध्‍यक्ष की मीटिंग एक फ्लॉप शो था। उन्‍होंने बंगाल का अपमान किया है। वह बंगाल की संस्‍कृति से वाकिफ नहीं हैं। उन्‍होंने बयानबाजी करके हमारे नागरिकों का अपमान किया है। अगर वह 72 घंटे में माफी नहीं मांगेगे तो हम उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेंगे। शाह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख बनर्जी से बांग्लादेश से घुसपैठ और एनआरसी पर अपने रूख को स्पष्ट करने के लिए भी कहा।

गौरतलब है कि बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) को लेकर पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार पर जमकर हमला बोला। शाह ने कहा कि ममता सरकार वोट बैंक के लिए बांग्लादेशियों का बचाव कर रही है। एनआरसी पर वोट बैंक की पॉलिटिक्स हो रही है। बंगाल की सलामती के लिए एनआरसी ही एक तरीका है। हम बंगाल से घुसपैठियों को भगाएंगे, शरणार्थियों को नहीं।’ युवा स्वाभिमान समावेश’ रैली में भारी तादाद में जुटी भीड़ को देखकर अमित शाह ने कहा- ‘रैली की भीड़ इस बात का संकेत है कि पश्चिम बंगाल से ममता बनर्जी का शासन खत्म होने जा रहा है।’

नई दिल्ली। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार यानी 11 अगस्त को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने 'वोट बैंक की राजनीति' के कारण असम में राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) का विरोध किया है शाह के भाषण के बाद पश्चिम बंगाल में सत्तारुढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के सांसद डेरेक ओ ब्राइन ने आपत्ति जताई। जिसके बाद टीएमसी ने अमित शाह को 72 घंटे का अल्टीमेटम देते हुए माफी मांगने को कहा है।

शाह माफी नहीं मांगेंगे तो हम कार्रवाई करेंगे : टीएमसी

पार्टी नेता डेरेक ओ ब्रायन ने कहा है कि बीजेपी अध्‍यक्ष की मीटिंग एक फ्लॉप शो था। उन्‍होंने बंगाल का अपमान किया है। वह बंगाल की संस्‍कृति से वाकिफ नहीं हैं। उन्‍होंने बयानबाजी करके हमारे नागरिकों का अपमान किया है। अगर वह 72 घंटे में माफी नहीं मांगेगे तो हम उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेंगे। शाह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख बनर्जी से बांग्लादेश से घुसपैठ और एनआरसी पर अपने रूख को स्पष्ट करने के लिए भी कहा।गौरतलब है कि बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) को लेकर पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार पर जमकर हमला बोला। शाह ने कहा कि ममता सरकार वोट बैंक के लिए बांग्लादेशियों का बचाव कर रही है। एनआरसी पर वोट बैंक की पॉलिटिक्स हो रही है। बंगाल की सलामती के लिए एनआरसी ही एक तरीका है। हम बंगाल से घुसपैठियों को भगाएंगे, शरणार्थियों को नहीं।' युवा स्वाभिमान समावेश' रैली में भारी तादाद में जुटी भीड़ को देखकर अमित शाह ने कहा- 'रैली की भीड़ इस बात का संकेत है कि पश्चिम बंगाल से ममता बनर्जी का शासन खत्म होने जा रहा है।'।