रोड शो में हिंसा ममता बनर्जी के इशारे पर की गई: अमित शाह

b

कोलकाता। कोलकाता में बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को रोड शो के दौरान हुई हिंसा पर प्रतिक्रिया दी है। शाह ने इस हिंसा के लिए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को जिम्मेदार ठहराया। शाह ने कहा कि बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हमला किया गया है।

Amit Shahs Accuses To Mamata Banerjee For Clashes Broke Out During Roadshow :

शाह ने कहा हार के डर से ममता ने हिंसा की करवाई। ममता को हिंसा की कीमत चुकानी पड़ेगी। रोड शो में ममता ने शांति को भंग किया। बिना साजिश के हमला नहीं हो सकता। ममता हार के डर से हताश हो गई हैं। पश्चिम बंगाल में चुनाव आयोग ने आंख कान बंद कर लिए हैं। चुनाव आयोग मूक दर्शक बना हुआ है।

हिस्ट्रीशीटर खुले घूम रहे हैं। बीजेपी अध्यक्ष ने कहा आज जिस तरह से बीजेपी के रोड को रिस्पांस मिला लगभग हर कोलकातावासी इसमें शामिल था। टीएमसी के गुंडों हताश हो गए इसलिए उन्होंने हमला कर दिया। मैं बीजेपी कार्यकर्ताओं को धन्यवाद देना चाहूंगा कि उन्होंने इस हिंसा के बाबजूद रोड शो जारी रखा।

शाह ने आगे कहा मैं हिंसा की निंदा करता हूं जो ममता बनर्जी की पार्टी कर रही है। मैं बंगाल के लोगों से इस हिंसा का जवाब वोट से देने की अपील करता हूं। राज्य में हिंसा को दूर को करने के लिए टीएमसी को सत्ता से हटाना जरूरी है। बंगाल बीजेपी प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि बीजेपी चुनाव आयोग से हिंसा की शिकायत करेगी। निर्मला सीतारमन, अनिल बलूनी, मुख्यार अब्बास नकवी दिल्ली में चुनाव आयोग से मुलाकात करेंगे।

हिंसा दो बार हुई। रोड शो के दौरान एबीवीपी और टीएमसी छात्र परिषद के बीच मारपीट और पत्थरबाजी हुई। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज किया। रोड शो के दौरान कुछ जगह पर आगजनी भी की गयी। पश्चिम बंगाल बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि बंगाल में ममता को अपनी हार दिखाई दे रही है। बीजेपी का कहना है कि हार के डर से टीएमसी हिंसा का सहारा ले रही हैं।

कोलकाता। कोलकाता में बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को रोड शो के दौरान हुई हिंसा पर प्रतिक्रिया दी है। शाह ने इस हिंसा के लिए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को जिम्मेदार ठहराया। शाह ने कहा कि बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हमला किया गया है। शाह ने कहा हार के डर से ममता ने हिंसा की करवाई। ममता को हिंसा की कीमत चुकानी पड़ेगी। रोड शो में ममता ने शांति को भंग किया। बिना साजिश के हमला नहीं हो सकता। ममता हार के डर से हताश हो गई हैं। पश्चिम बंगाल में चुनाव आयोग ने आंख कान बंद कर लिए हैं। चुनाव आयोग मूक दर्शक बना हुआ है। हिस्ट्रीशीटर खुले घूम रहे हैं। बीजेपी अध्यक्ष ने कहा आज जिस तरह से बीजेपी के रोड को रिस्पांस मिला लगभग हर कोलकातावासी इसमें शामिल था। टीएमसी के गुंडों हताश हो गए इसलिए उन्होंने हमला कर दिया। मैं बीजेपी कार्यकर्ताओं को धन्यवाद देना चाहूंगा कि उन्होंने इस हिंसा के बाबजूद रोड शो जारी रखा। शाह ने आगे कहा मैं हिंसा की निंदा करता हूं जो ममता बनर्जी की पार्टी कर रही है। मैं बंगाल के लोगों से इस हिंसा का जवाब वोट से देने की अपील करता हूं। राज्य में हिंसा को दूर को करने के लिए टीएमसी को सत्ता से हटाना जरूरी है। बंगाल बीजेपी प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि बीजेपी चुनाव आयोग से हिंसा की शिकायत करेगी। निर्मला सीतारमन, अनिल बलूनी, मुख्यार अब्बास नकवी दिल्ली में चुनाव आयोग से मुलाकात करेंगे। हिंसा दो बार हुई। रोड शो के दौरान एबीवीपी और टीएमसी छात्र परिषद के बीच मारपीट और पत्थरबाजी हुई। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज किया। रोड शो के दौरान कुछ जगह पर आगजनी भी की गयी। पश्चिम बंगाल बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि बंगाल में ममता को अपनी हार दिखाई दे रही है। बीजेपी का कहना है कि हार के डर से टीएमसी हिंसा का सहारा ले रही हैं।