1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. अमित शाह का कर्नाटक दौरे चढ़ा सियासी पारा, सीएम बसवराज बोम्मई की कुर्सी जानी तय !

अमित शाह का कर्नाटक दौरे चढ़ा सियासी पारा, सीएम बसवराज बोम्मई की कुर्सी जानी तय !

कर्नाटक विधानसभा चुनाव 2023 (Karnataka Assembly Election 2023) से पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Union Home Minister Amit Shah) का दौरा राज्य में बड़े बदलाव का संकेत दे रहा है। पार्टी सूत्रों ने बताया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई (CM Basavaraj Bommai)  की छुट्टी तय मानी जा रही है। पूर्व सीएम येदियुरप्पा के एक बयान के बाद बोम्मई के सीएम पद से छुट्टी होने की बातें और जोर पकड़ रही हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। कर्नाटक विधानसभा चुनाव 2023 (Karnataka Assembly Election 2023) से पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Union Home Minister Amit Shah) का दौरा राज्य में बड़े बदलाव का संकेत दे रहा है। पार्टी सूत्रों ने बताया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई (CM Basavaraj Bommai)  की छुट्टी तय मानी जा रही है। पूर्व सीएम बीएस येदियुरप्पा (Former CM BS Yediyurappa) के एक बयान के बाद बोम्मई के सीएम पद से छुट्टी होने की बातें और जोर पकड़ रही हैं।

पढ़ें :- गौतम अडानी का साम्राज्य तबाह करने वाले नाथन एंडरसन जानें कौन हैं?

हालांकि येदियुरप्पा ने यह कहकर बचाव किया है कि मेरा मानना है कि अमित शाह कुछ फैसलों को ध्यान में रखकर दौरे पर आए हैं। बोम्मई मुख्यमंत्री के रूप में अच्छा काम कर रहे हैं। येदियुरप्पा राज्य कैबिनेट में फेरबदल की बात कह रहे हैं। बता दें कि पिछले साल येदियुरप्पा ने भी पार्टी के आदेश पर सीएम पद से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने उस वक्त कहा था कि हाई कमान का मुझ पर कोई दबाव नहीं है।

कर्नाटक के पूर्व सीएम और भाजपा नेता बीएस येदियुरप्पा (BS Yediyurappa) ने दावा किया है कि भाजपा द्वारा मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई (CM Basavaraj Bommai)  की जगह लेने की अटकलें “ज्यादातर अफवाहें” हैं। उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि अमित शाह कुछ फैसलों को ध्यान में रखकर दौरे पर आए हैं। मुझे लगता है कि दो दिनों में कैबिनेट में बदलाव किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री में बदलाव के सुझाव ज्यादातर अफवाहें हैं। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि वे जल्द ही अमित शाह (Amit Shah) से मुलाकात करेंगे।

केंद्रीय गृह मंत्री भाजपा विधायकों, सांसदों और वरिष्ठ सदस्यों के लिए मंगलवार दोपहर बोम्मई द्वारा आयोजित दोपहर के भोजन में होंगे। दोपहर का भोजन, जो पहले एक पांच सितारा होटल में होने वाला था, को मुख्यमंत्री के आधिकारिक आवास में स्थानांतरित कर दिया गया है। इसके बाद 2023 के विधानसभा चुनाव की रणनीति पर चर्चा के लिए राज्य में पार्टी की कोर कमेटी की बैठक होगी।

बता दें कि कई हफ्तों से अटकलें लगाई जा रही हैं कि भाजपा सरकार के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों के कारण कर्नाटक में बड़े बदलावों के साथ आगे बढ़ने के मूड में है। फिर सोमवार को येदियुरप्पा ने यह सुझाव देकर अफवाहों को और जोर दे दिया कि बोम्मई मुख्यमंत्री के रूप में अच्छा काम कर रहे हैं।

पढ़ें :- जिस देश के युवा उत्साह और जोश से भरे हुए हों, उस देश की प्राथमिकता सदैव युवा ही होंगे: पीएम मोदी

कर्नाटक में बदलाव के संकेत अगर सही हैं तो उनका अमित शाह संग राज्य के मंत्रियों के साथ बैठक के बाद पता लग जाएगा। अमित शाह (Amit Shah)  की पार्टी की कोर कमेटी और पदाधिकारियों के साथ बैठक होनी है। भाजपा सूत्रों ने कहा कि पार्टी जरूरत के आधार पर लोगों का चयन करने के अपने इरादों के बारे में बताएगी। अगले कुछ दिनों में अपने इरादों को लागू करने के लिए एक योजना तैयार की जाएगी।

कर्नाटक में पार्टी नेताओं को शंका है कि क्या केंद्रीय नेतृत्व बड़े बदलावों को प्रभावित करेगा या क्या बदलाव मामूली होंगे? नेताओं के एक वर्ग का मानना ​​है कि भ्रष्टाचार के आरोपों और सरकारी अक्षमता की शिकायतों के बीच बोम्मई का सीएम बने रहना असंभव हो गया है।

हालांकि, कुछ नेताओं का कहना है कि भाजपा के पास विकल्पों की कमी है और वह यथास्थिति का विकल्प चुन सकती है। फिर भी, पार्टी के वरिष्ठ नेता और संगठन सचिव बी एल संतोष ने शनिवार को पार्टी की एक बैठक में कहा कि भाजपा के पास अब राज्य में पार्टी और ढांचे में बड़े बदलाव करने की ताकत है।

इन टिप्पणियों ने अटकलों को तेज कर दिया है कि 2021 में गुजरात में हुए परिवर्तनों की तर्ज पर कर्नाटक में भाजपा के मन में बड़े बदलाव हैं, जब तत्कालीन मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और उनके पूरे मंत्रिमंडल को भूपेंद्र पटेल और अन्य ने बदल दिया था। वहीं, बोम्मई पिछले कुछ महीनों से घुटने की बार-बार होने वाली समस्या से पीड़ित हैं और ऐसे सुझाव आए हैं कि वह विदेश में चिकित्सा उपचार प्राप्त करने के लिए राज्य की राजनीति से छुट्टी ले सकते हैं।

पढ़ें :- Nathan Anderson के पर्दाफाश से गौतम अडानी के डूबे 45 हजार करोड़ रुपये,अमीरों की लिस्ट में चौथे नंबर पर खिसके
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...