‘रेपिस्तान’ वाले ट्वीट पर केंद्र सरकार खफ़ा, IAS शाह फैसल के खिलाफ होगी कारवाई

ias faisal
‘रेपिस्तान’ वाले ट्वीट पर केंद्र सरकार खफ़ा, IAS शाह फैसल के खिलाफ होगी कारवाई

Ammu And Kashmirs First Upsc Topper Is In News For His Show Cause Notice Regarding Rapistan Tweet

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के चर्चित आईएएस अधिकारी शाह फैसल एक बार फिर ट्वीट के लिए निशाने पर हैं। फैसल के खिलाफ केंद्र सरकार के पर्सनल एवं ट्रेनिंग विभाग की सिफारिश पर जम्मू कश्मीर जनरल प्रशासनिक विभाग (जीएडी) ने विभागीय कार्रवाई शुरू कर दी है। फैसल कश्मीर और सामाजिक मुद्दों पर अक्सर ही मुखर रहते हैं। उन्होंने दक्षिणी एशिया में बढ़ते रेप पर ‘रेपिस्तान’ ट्वीट किया था, जिस पर उन्हें नोटिस जारी किया।

कुछ दिन पहले शाह ने रेप की बढ़ती घटनाओं पर ट्वीट किया था. उन्होंने लिखा था. ‘पितृसत्ता + जनसंख्या + निरक्षरता + शराब + पोर्न + टेक्नालॉजी + अराजकता = रेपिस्तान!’ बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पर्यटन विभाग के अडिशनल सचिव फैसल इस वक्त स्टडी लीव पर हारवर्ड में हैं। यह पोस्ट कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग को नागवार गुजरा। एक निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में फैसल ने कहा कि उनका उद्देश्य किसी के विरोध का नहीं है। वह सरकारी अधिकारियों की अभिव्यक्ति के आजादी के अधिकार की वकालत कर रहे हैं।

नोटिस मिलने के बाद उसकी एक प्रति ट्वीट करते हुए फैसल ने लिखा है , दक्षिण एशिया में बलात्कार के चलन के खिलाफ मेरे व्यंग्यात्मक ट्वीट के एवज में मुझे मेरे बॉस से प्रेम पत्र (नोटिस) मिला।

शाह फैसल ने केंद्र के द्वारा अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के कदम की कड़ी आलोचना की है। उन्होंने केंद्र की चिट्ठी को पोस्ट करते हुए ट्वीट किया, ‘दक्षिण एशिया में रेप कल्चर के खिलाफ मेरे निंदापूर्ण ट्वीट को लेकर मेरे बॉस (केंद्र) ने प्रेम पत्र भेजा है। विडंबना यह है कि अंतरआत्मा की आजादी का दम घोंटने के लिए औपनिवेशिक रूह वाले सर्विस रूल्स को लोकतांत्रिक भारत में अमल में लाया जा रहा है। मैं इसे (केंद्र की चिट्ठी) इसलिए साझा कर रहा हूं ताकि मौजूदा नियमों में बदलाव की जरूरत को रेखांकित किया जा सके।’ शाह फैसल इससे पहले 11 जून के एक ट्वीट में भी सुधार की वकालत की थी। इसके अलावा घाटी में बढ़ती हिंसा पर भी चिंता जता चुके हैं। बता दें कि कठुआ सामूहिक दुष्कर्म मामले ने राष्ट्रीय स्तर पर सुर्खियां बटोरी थीं। एक मासूम बच्ची से रेप कर उसकी निर्मम हत्या कर दी गई थी।

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के चर्चित आईएएस अधिकारी शाह फैसल एक बार फिर ट्वीट के लिए निशाने पर हैं। फैसल के खिलाफ केंद्र सरकार के पर्सनल एवं ट्रेनिंग विभाग की सिफारिश पर जम्मू कश्मीर जनरल प्रशासनिक विभाग (जीएडी) ने विभागीय कार्रवाई शुरू कर दी है। फैसल कश्मीर और सामाजिक मुद्दों पर अक्सर ही मुखर रहते हैं। उन्होंने दक्षिणी एशिया में बढ़ते रेप पर 'रेपिस्तान' ट्वीट किया था, जिस पर उन्हें नोटिस जारी किया। कुछ दिन पहले शाह ने रेप की बढ़ती…