EVM से छेड़छाड़ होती तो मैं पंजाब का मुख्यमंत्री नहीं होता: कैप्टन अमरिंदर सिंह

अमृतसर| पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ईवीएम से छेड़छाड़ की ख़बरों को सिरे से नकार दिया है| उन्होंने कहा कि ईवीएम से छेड़छाड़ संभव नहीं है| अमरिंदर सिंह ने कहा कि अगर ईवीएम से छेड़छाड़ हो सकती तो वो आज पंजाब के सीएम नहीं होते बल्कि उनकी जगह अकाली नेता उस कुर्सी पर होते|




पूर्व कानून मंत्री वीरप्पपा मोईली के बाद अमरिंदर सिंह कांग्रेस के दूसरे वरिष्ठ नेता हैं जो ईवीएम के बचाव में उतरे हैं जबकि कांग्रेस का आरोप है कि मशीन से छेड़छाड़ हुई है|




कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने बुधवार को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मुलाक़ात के दौरान भी ईवीएम मशीन का मुद्दा उठाया| कांग्रेस ने मांग की है कि ईवीएम की जगह पुराने मतपत्रों का इस्तेमाल किया जाए| सोनिया गांधी की पार्टी दूसरे विपक्षी दलों के साथ मिलकर इलज़ाम लगा रही है कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों से छेड़छाड़ हुई है और इसी की वजह से उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड में बीजेपी को विधानसभा चुनाव जीतने में सहयोग मिला| इस बीच चुनाव आयोग ने आज सियासी पार्टी और विशेषज्ञों को ईवीएम हैक करने की खुली चुनौती दी है|

Loading...