अफगानिस्तान से लौटते वक़्त लाहौर क्यों गए पीएम मोदी, देश को बताए: कांग्रेस

नई दिल्ली। राज्यसभा में आज चर्चा के दौरान विपक्ष ने पीएम नरेंद्र मोदी के साथ सरकार की विदेश नीतियों पर सवाल उठाते हुए जमकर हमला किया। कांग्रेसी नेता आनंद शर्मा ने मोदी को डोकलाम में चीन के साथ जारी तनाव, पाकिस्तान और नेपाल के साथ रिश्ते को लेकर जवाब देने को कहा। शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री अमेरिका जाकर यह कहते हैं कि हिंदुस्‍तान की शक्‍ति के सामने दुनिया ने माथा झुका दिया, दुनिया ने भारत की ताकत मान ली, उसे स्‍वीकार कर लिया। दुनिया ने भारत की ताकत को तो मान लिया लेकिन पाकिस्‍तान नहीं मान रहा, सर्जिकल स्‍ट्राइक के बाद से कई घटनाएं हुई हैं। उस पर लगाम नहीं लग रही है।

शर्मा ने कहा कि पाकिस्तान के मुद्दे पर सरकार की नीति साफ नहीं है, पहले कहते हैं कि बात करेंगे लेकिन एक ही बार में बात को खत्म भी कर दिया जाता है। उन्होंने कहा कि ऐसा क्या हुआ कि भारत के प्रधानमंत्री अफगानिस्तान के दौरे से लौटते हुए लाहौर चले गए। जब पीएम पाकिस्तान की जमीन पर उतरे तो वहां पर उन्हें न सलामी मिली, न ही गॉर्ड ऑफ ऑनर बल्कि तोहफे में आतंकवादी हमले मिले।

शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री अभी तक 65 देशों की यात्रा कर चुके हैं, लेकिन बताते नहीं क्या बात हुई। पीएम 5 बार अमेरिका जा चुके हैं, प्लेन में अकेले जाते हैं। प्लेन से उतरने का प्रोटोकॉल होता है, लेकिन अकेले उतरते हैं ताकि कोई फ्रेम में न रहे। पहले उन्होंने कहा था कि वह एक के बदले 10 सिर लाएंगे, लेकिन कूटनीति हल्केपन से नहीं चलती है। शर्मा ने कहा कि हाल में एनएसए अजीत डोभाल भी चीन गए थे, लेकिन क्या बात हुई कोई आइडिया नहीं, आखिर ये क्या हो रहा है। वहीं नेता विपक्ष गुलाम नबी आजाद ने चर्चा के दौरान पीएम के मौजूद होने का मुद्दा भी उठाया लेकिन सुषमा ने कहा कि पीएम इस चर्चा के दौरान मौजूद नहीं रहेंगे।