माफिया आनंदपाल: अपने शिकार के लिये बना रखा था ‘पिंजरा’ और पुलिस के लिए ‘किला’

नई दिल्ली| पुलिस एनकाउंटर में मारा गया कुख्यात अपराधी आनंदपाल का अंतिम सस्कार भले ही हो गया हो लेकिन आज भी उनके गांव सांवराद गांव की स्थति सामान्य नहीं हो पाई है| दुनिया को अलविदा कह चूका आनंदपाल से जुडी आज भी बहुत सारी ऐसी चीज़ें है जिसे देख आम इन्सान हैरान हो सकता है| जिस तरह की लाइफ स्टाइल यह माफिया डॉन अपनानता था, जिन जगहों पर वह रहता था उन सब को जान आप भी हैरान रह जायेंगे|

ऐसी ही कुछ चीज़ों का पता अब चल रहा है 

एडीजी ने लाडनूं रोड पर बने आनंदपाल के फार्म हाउस में बने बख्तरबंद किले नुमा मकान का जायजा लिया, इस दौरान अधिकारियों ने बेहद बारिकी से इस किलेनुमा मकान का जायजा लिया| मकान की बनावट देखकर अधिकारी भी हैरान रह गए| इस मकान में मोर्चा लेने के लिए बंकरनुमा कमरे बने हुए हैं| परबतसर के गांगवा के पास से फरार होने के बाद आनंदपाल यहीं आकर रुका था| आनंदपाल ने इस किलेनुमा मकान में कई बार फरारी काटी| आनंदपाल का यह किलेनुमा मकान उसकी सबसे सुरक्षित जगहों में शामिल था| हालांकि फरारी के बाद पुलिस ने इस फार्म हाउस को कुर्क कर लिया था|

खौफनाक था डॉन का पिंजरा 

कुर्की की कार्रवाई के दौरान इस मकान में ऐसा पिंजरा भी मिला जिसमें आनंदपाल अपने विरोधियों को कैद करता था| वसूली, फिरौती या गवाहों को डराने के लिए सबसे अधिक इसी फार्म हाउस का इस्तेमाल किया गया|

अपनाता था फ़िल्मी लाइफ स्टाइल 

इस डॉन के किस्से मशहूर तो बहुत हैं लेकिन इसकी खास बात थी कि यह रियल लाइफ को रील लाइफ बनाता था, गिरफ्तारी के दौरान भी जिस तरह से पुलिस के बीच हीरो की तरह चश्मा लगा चलता था, सोशल मीडिया पर बॉडी की नुमाइश करता था, गरीबों का रहनुमा बन काम  करता था ये सारी चीज़े है जिसके लिए उसे याद किया जायेगा|