आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य की दर्जा की मांग को लेकर हंगामा, राज्यसभा 2.30 बजे तक स्थगित

आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य की दर्जा की मांग को लेकर हंगामा, राज्यसभा 2.30 बजे तक स्थगित
आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य की दर्जा की मांग को लेकर हंगामा, राज्यसभा 2.30 बजे तक स्थगित
नई दिल्ली। संसद के ऊपरी सदन राज्यसभा में शुक्रवार को आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग सहित विभिन्न मुद्दों पर हंगामे के बीच सदन की कार्यवाही अपराह्न् 2.30 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। जैसे ही सभापति एम.वेंकैया नायडू ने शून्यकाल का ऐलान किया। तेलुगू देसम पार्टी (तेदेपा) और एआईएडीएमके के सांसदों ने हंगामा करना शुरू कर दिया। हंगामा कर रहे सांसद सभापति के आसन के पास इकट्ठा हो गए।तेदेपा सांसदों ने आंध्र प्रदेश…

नई दिल्ली। संसद के ऊपरी सदन राज्यसभा में शुक्रवार को आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग सहित विभिन्न मुद्दों पर हंगामे के बीच सदन की कार्यवाही अपराह्न् 2.30 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। जैसे ही सभापति एम.वेंकैया नायडू ने शून्यकाल का ऐलान किया। तेलुगू देसम पार्टी (तेदेपा) और एआईएडीएमके के सांसदों ने हंगामा करना शुरू कर दिया।

हंगामा कर रहे सांसद सभापति के आसन के पास इकट्ठा हो गए।तेदेपा सांसदों ने आंध्र प्रदेश के लिए विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग की है जबकि एआईएडीएमके के सांसद कावेरी जल विवाद पर हंगामा कर रहे हैं।

{ यह भी पढ़ें:- अरुण जेटली ने राज्यसभा के नए कार्यकाल की शपथ ली }

नायडू ने हंगामा कर रहे सांसदों से अपनी सीटों पर जाने का आग्रह करते हुए कहा कि इन प्रदर्शनों को लेकर पहले ही एक सप्ताह का समय बर्बाद हो गया है। सभापति के आग्रह के बाद भी सांसद टस से मस नहीं हुए। हंगामे के बीच सदन की कार्यवाही अपराह्न् 2.30 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

{ यह भी पढ़ें:- आंध्र प्रदेश: रामनवमी पर बड़ा हादसा, 4 लोगों की मौत 70 घायल }

Loading...