नाव हादसे में अब तक 12 शव बरामद, बाकी की तलाश जारी, पीएम से लेकर सीएम तक ने जताया दुख

f

अमरावती। आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले में गोदावरी नदी में रविवार दोपहर पर्यटकों से भरी एक नाव कुच्छुलुरु के नजदीक डूब गई। अब तक 12 शव बरामद किये जा चुके है। बाकी की तलाश के लिए रेस्क्यू आपरेशन जारी है।

Andhra Pradesh Boat Capsized Near Kuchchuluru On Godavari River :

नाव में करीब 62 लोग सवार थेण् नाव पर 11 क्रू मेंबर के भी होने की जानकारी है। आंध्र प्रदेश पर्यटन विकास निगम की इस डूबी नाव से करीब 20 लोगों को सुरक्षित बचा लिया गया है और बाकी लापता लोगों की तलाश जारी है। एनडीआरएफ की टीम बचाव कार्य में जुट गई है। 12 शवों को नदी से बाहर निकाल लिया गया है। घटना से दुखी आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने मृतक के परिवार के लिए 10 लाख रुपये की मुआवजा राशि की घोषणा की है।

इसके साथ ही उन्होंने मंत्रियों और अधिकारियों को घटना के बारे में पल- पल की अपडेट लेते रहने के लिए भी निर्देश दिया है। रेस्क्यू ऑपरेशन में नौसेना के हेलीकॉप्टर को भी शामिल किया गया है। इस घटना में बचाए गए एक व्यक्ति ने बताया नाव अचानक एक तरफ झुक गई थी। सभी फिसल गए और हम में से कई कूद गए क्योंकि नाव पूरी तरह उल्टी हो गई थी इस वजह से हम सब पानी में गिर गए थे।

एक और नाव जो पास में थी उसने हमें बचाया। मुझे लगता है कि नाव पर कुल मिलाकर 60-65 लोग थे। हम तेलंगाना के वारंगल जिले से 14 लोगों के एक समूह में आए थे। हम में से पांच सुरक्षित हैं लेकिन नौ अन्य लोगों का अभी पता नहीं चल पाया है। इस दुखदायी घटना के बाद त्वरित कार्यवाही करते हुए आंध्र प्रदेश की रेड्डी सरकार ने तत्काल प्रभाव से सभी यात्रियों, पर्यटकों की नौकाओं पर रोक लगा दी है।

मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी ने सभी नौकाओं के परमिट, लाइसेंस और उसमें किए गए सुरक्षा उपायों की जांच के आदेश भी दिए हैं। जानकारी के मुताबिक कुछ दिनों से गोदावरी नदी में बाढ़ के कारण जल प्रवाह बढ़ गया है। रविवार को हादसे के वक्त नदी का जल प्रवाह 5.13 लाख क्यूसेक था।

पूर्वी गोदावरी जिले के पुलिस अधीक्षक अदनान नईम असमी ने घटना के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि दुर्घटना की शिकार होने वाली नौका आंध्र प्रदेश पर्यटन विकास निगम की थी। यह नौका प्रमुख पर्यटन स्थल पापीकोंडालु से रवाना हुई थी और कुच्छुलुरु के निकट डूबी।

आंध्रप्रदेश के मुख्य सचिव एलवी सुब्रमण्यम ने ईस्ट गोदावरी जिले के कलेक्टर एलवी सुब्रमण्यम को फोन कर दुर्घटना की जानकारी ली है। आंध्र प्रदेश के नाव हादसे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दु:ख प्रकट करते हुए पीडि़त परिवारों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है।

अमरावती। आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले में गोदावरी नदी में रविवार दोपहर पर्यटकों से भरी एक नाव कुच्छुलुरु के नजदीक डूब गई। अब तक 12 शव बरामद किये जा चुके है। बाकी की तलाश के लिए रेस्क्यू आपरेशन जारी है। नाव में करीब 62 लोग सवार थेण् नाव पर 11 क्रू मेंबर के भी होने की जानकारी है। आंध्र प्रदेश पर्यटन विकास निगम की इस डूबी नाव से करीब 20 लोगों को सुरक्षित बचा लिया गया है और बाकी लापता लोगों की तलाश जारी है। एनडीआरएफ की टीम बचाव कार्य में जुट गई है। 12 शवों को नदी से बाहर निकाल लिया गया है। घटना से दुखी आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने मृतक के परिवार के लिए 10 लाख रुपये की मुआवजा राशि की घोषणा की है। इसके साथ ही उन्होंने मंत्रियों और अधिकारियों को घटना के बारे में पल- पल की अपडेट लेते रहने के लिए भी निर्देश दिया है। रेस्क्यू ऑपरेशन में नौसेना के हेलीकॉप्टर को भी शामिल किया गया है। इस घटना में बचाए गए एक व्यक्ति ने बताया नाव अचानक एक तरफ झुक गई थी। सभी फिसल गए और हम में से कई कूद गए क्योंकि नाव पूरी तरह उल्टी हो गई थी इस वजह से हम सब पानी में गिर गए थे। एक और नाव जो पास में थी उसने हमें बचाया। मुझे लगता है कि नाव पर कुल मिलाकर 60-65 लोग थे। हम तेलंगाना के वारंगल जिले से 14 लोगों के एक समूह में आए थे। हम में से पांच सुरक्षित हैं लेकिन नौ अन्य लोगों का अभी पता नहीं चल पाया है। इस दुखदायी घटना के बाद त्वरित कार्यवाही करते हुए आंध्र प्रदेश की रेड्डी सरकार ने तत्काल प्रभाव से सभी यात्रियों, पर्यटकों की नौकाओं पर रोक लगा दी है। मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी ने सभी नौकाओं के परमिट, लाइसेंस और उसमें किए गए सुरक्षा उपायों की जांच के आदेश भी दिए हैं। जानकारी के मुताबिक कुछ दिनों से गोदावरी नदी में बाढ़ के कारण जल प्रवाह बढ़ गया है। रविवार को हादसे के वक्त नदी का जल प्रवाह 5.13 लाख क्यूसेक था। पूर्वी गोदावरी जिले के पुलिस अधीक्षक अदनान नईम असमी ने घटना के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि दुर्घटना की शिकार होने वाली नौका आंध्र प्रदेश पर्यटन विकास निगम की थी। यह नौका प्रमुख पर्यटन स्थल पापीकोंडालु से रवाना हुई थी और कुच्छुलुरु के निकट डूबी। आंध्रप्रदेश के मुख्य सचिव एलवी सुब्रमण्यम ने ईस्ट गोदावरी जिले के कलेक्टर एलवी सुब्रमण्यम को फोन कर दुर्घटना की जानकारी ली है। आंध्र प्रदेश के नाव हादसे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दु:ख प्रकट करते हुए पीडि़त परिवारों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है।