पाकिस्तान के लिए जासूसी करने वाले 7 नौसैनिक और हवाला ऑपरेटर गिरफ्तार

पाकिस्तान के लिए जासूसी करने वाले 7 नौसैनिक और हवाला ऑपरेटर गिरफ्तार
पाकिस्तान के लिए जासूसी करने वाले 7 नौसैनिक और हवाला ऑपाकिस्तान के लिए जासूसी करने वाले 7 नौसैनिक और हवाला ऑपरेटर गिरफ्तार परेटर गिरफ्तार

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश के खुफिया विभाग ने केंद्रीय एजेंसियों के साथ मिलकर एक पाकिस्तानी जासूसी रैकेट का पर्दाफाश किया है। इस मामले में आठ लोगों को हिरासत में लिया गया है। खबर मिली है कि भारतीय नौसेना की पूर्वी कमान इस रैकेट के निशाने पर थी और नौसेना की यह कमान रणनीतिक तौर पर बेहद अहम है।

Andhra Pradesh Intelligence Pakistan Espionage Racket Disclosure Indian Navy Fir Registered :

फिलहाल, इस मामले में देशव्यापी छापेमारी के बाद आश्चर्यजनक रूप से नौसेना के कर्मचारी पकड़े गए हैं। सात नौसैनिकों और एक हवाला ऑपरेटर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। यह रैकेट राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली समेत देश के अन्य हिस्सों में फैला हुआ था।

बता दें कि आंध्र प्रदेश के खुफिया विभाग ने केंद्रीय खुफिया एजेंसियों की मदद लेते हुए पूरे देश में ‘ऑपरेशन डॉल्फिन’ लॉन्च किया था। इसी ऑपरेशन के तहत इस रैकेट का खुलासा हुआ है और यह पता चला है कि इस रैकेट के तार पाकिस्तान से जुड़े हैं।

सूत्रों का कहना है कि दो नौसेना कर्मियों के साथ तीन लोगों को, जो नौसेना की पूर्वी कमान के लिए काम करते थे, विशाखापट्टनम से पकड़ा गया है। बाकी लोगों को दिल्ली समेत देश के विभिन्न हिस्सों से पकड़ा गया है।

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश के खुफिया विभाग ने केंद्रीय एजेंसियों के साथ मिलकर एक पाकिस्तानी जासूसी रैकेट का पर्दाफाश किया है। इस मामले में आठ लोगों को हिरासत में लिया गया है। खबर मिली है कि भारतीय नौसेना की पूर्वी कमान इस रैकेट के निशाने पर थी और नौसेना की यह कमान रणनीतिक तौर पर बेहद अहम है। फिलहाल, इस मामले में देशव्यापी छापेमारी के बाद आश्चर्यजनक रूप से नौसेना के कर्मचारी पकड़े गए हैं। सात नौसैनिकों और एक हवाला ऑपरेटर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। यह रैकेट राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली समेत देश के अन्य हिस्सों में फैला हुआ था। बता दें कि आंध्र प्रदेश के खुफिया विभाग ने केंद्रीय खुफिया एजेंसियों की मदद लेते हुए पूरे देश में 'ऑपरेशन डॉल्फिन' लॉन्च किया था। इसी ऑपरेशन के तहत इस रैकेट का खुलासा हुआ है और यह पता चला है कि इस रैकेट के तार पाकिस्तान से जुड़े हैं। सूत्रों का कहना है कि दो नौसेना कर्मियों के साथ तीन लोगों को, जो नौसेना की पूर्वी कमान के लिए काम करते थे, विशाखापट्टनम से पकड़ा गया है। बाकी लोगों को दिल्ली समेत देश के विभिन्न हिस्सों से पकड़ा गया है।