जलभराव से राहत नहीं मिलने पर गुस्साए लोग, डिप्टी सीएम सुशील मोदी के घर का किया घेराव

bihar
जलभराव से राहत नहीं मिलने पर गुस्साए लोग, डिप्टी सीएम सुशील मोदी के घर का किया घेराव

पटना। बिहार में पिछले दिनों हुई बारिश के बाद आज तक लोगों को जलभराव की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। जलजमाव से निजात नहीं मिलने के कारण लोगों का धैर्य जवाब दे दिया। रविवार आक्रोशित लोगों ने पटना के राजेंद्रनगर में डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी के घर का घेराव किया और नारेजबारी की।

Angry People Not Getting Relief From Waterlogging Besieged Deputy Cm Sushil Modis House :

लोगाों का कहना है कि, जलजमाव से गंदगी और डेंगू जैसी बीमारी तेजी से फैल रही है लेकिन जिम्मेदार खामोश बैठे हैं। वहीं, इसी घर में सुशील मोदी बाढ़ के बीच फंसे थे। इस दौरान एनडीआरएफ की टीम ने उन्हेें बाहर निकाला था। रविवार को काफी संख्या में लोग सुशील मोदी के घर पहुंचे और उनके घर के सामने प्रदर्शन शुरू कर दिया।

उधर, डिप्टी सीएम के घर के बाहर प्रदर्शन की सूचना मिलने के बाद पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और आक्रोशित लोगों को शांत कराने में जुट गए। इसके साथ ही वहां पर भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है।

आक्रोशित लोगों ने सुशील मोदी और नीतीश सरकार के विरोध में खूब नारे लगाए। हाथों में तख्ती लिए लोग अपनी मांगों के साथ प्रदर्शन कर रहे थे। लोगों की मांग थी कि बारिश के बाद हुए जलजमाव के लिए जो अधिकारी जिम्मेदार हैं, उनके खिलाफ सरकार सख्त कार्रवाई करे।

पटना। बिहार में पिछले दिनों हुई बारिश के बाद आज तक लोगों को जलभराव की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। जलजमाव से निजात नहीं मिलने के कारण लोगों का धैर्य जवाब दे दिया। रविवार आक्रोशित लोगों ने पटना के राजेंद्रनगर में डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी के घर का घेराव किया और नारेजबारी की। लोगाों का कहना है कि, जलजमाव से गंदगी और डेंगू जैसी बीमारी तेजी से फैल रही है लेकिन जिम्मेदार खामोश बैठे हैं। वहीं, इसी घर में सुशील मोदी बाढ़ के बीच फंसे थे। इस दौरान एनडीआरएफ की टीम ने उन्हेें बाहर निकाला था। रविवार को काफी संख्या में लोग सुशील मोदी के घर पहुंचे और उनके घर के सामने प्रदर्शन शुरू कर दिया। उधर, डिप्टी सीएम के घर के बाहर प्रदर्शन की सूचना मिलने के बाद पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और आक्रोशित लोगों को शांत कराने में जुट गए। इसके साथ ही वहां पर भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है। आक्रोशित लोगों ने सुशील मोदी और नीतीश सरकार के विरोध में खूब नारे लगाए। हाथों में तख्ती लिए लोग अपनी मांगों के साथ प्रदर्शन कर रहे थे। लोगों की मांग थी कि बारिश के बाद हुए जलजमाव के लिए जो अधिकारी जिम्मेदार हैं, उनके खिलाफ सरकार सख्त कार्रवाई करे।