बीएचयू बवाल : दुकानदारों से झड़प के बाद नाराज छात्रों ने बंद किए सभी गेट, कार्रवाई पर अंड़े

bhu campus
बीएचयू बवाल : दुकानदारों से झड़प के बाद नाराज छात्रों ने बंद किए सभी गेट, कार्रवाई पर अंड़े

बनारस। बनारस​ हिन्दू यूनिवर्सिटी के सैकड़ो नाराज छात्रों ने कालेज के सभी गेट पर कर दिए। दरअसल लंका पर दवा दुकानदार से झड़प के बाद कार्रवाई न होने से छात्र नाराज हैं। उनकी मांग है कि छात्रों से मारपीट करने वाले दुकानदारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी की जाए। वहीं सैकड़ो की संख्या में छात्रों ने कैंपस के अंदर ही धरना देना शुरु कर दिया। इस दौरान चीफ प्राक्टर छात्रों को समझाने की कोशिश में जुटे हैं लेकिन देर रात तक सफलता नहीं मिल सकी थी। फिर सुरक्षा—व्यवस्था बनी रहे,इसके लिए वहां कई थानों की फोर्स तैनात कर दी गई है।

Angry Students Close All Gates Of Bhu After Action With Clash With Shopkeepers :

बताया जाता है कि बीएचयू के छोटे गेट के सामने स्थित एक दुकान पर कुछ छात्र मंगलवार की शाम दवा खरीदने पहुंचे थे। तभी वहां बगल में चाय की दुकान लगाने वालों से उन लोगों की कुछ कहासुनी हो गई। जिसको लेकर विवाद हो गया। देखते ही देखते बवाल इतना बढ़ा कि मारपीट हो गई। इस दौरान नाराज छात्रों ने चाय की भट्टी तोड़ने के साथ ही वहां रखी मेज और काउंटरों को भी तोड़ दिया। घटना की सूचना पुलिस को मिली तो वो वहां पहुंची और किसी तरीके से मामला शांत कराया।

इसी बीच, मारपीट की सूचना पाकर हास्टलों से काफी संख्या में छात्र लाठी डंडा लेकर पहुंचने लगे। उन्हें परिसर में ही रोका गया तो छात्र मुख्य द्वार बंद कर धरने पर बैठ गए। छात्रों ने बीएचयू के अन्य गेटों को भी बंद कर दिया। बवाल बढ़ने की सूचना पर लंका के साथ ही भेलूपुर और मंडुवाडीह थाने की फोर्स भी पहुंच गई। मौके पर चीफ प्रॉक्टर प्रोफेसर ओपी राय के साथ ही कई थानों की फोर्स पहुंची और समझाने की कोशिश में लग गई।

बनारस। बनारस​ हिन्दू यूनिवर्सिटी के सैकड़ो नाराज छात्रों ने कालेज के सभी गेट पर कर दिए। दरअसल लंका पर दवा दुकानदार से झड़प के बाद कार्रवाई न होने से छात्र नाराज हैं। उनकी मांग है कि छात्रों से मारपीट करने वाले दुकानदारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी की जाए। वहीं सैकड़ो की संख्या में छात्रों ने कैंपस के अंदर ही धरना देना शुरु कर दिया। इस दौरान चीफ प्राक्टर छात्रों को समझाने की कोशिश में जुटे हैं लेकिन देर रात तक सफलता नहीं मिल सकी थी। फिर सुरक्षा—व्यवस्था बनी रहे,इसके लिए वहां कई थानों की फोर्स तैनात कर दी गई है। बताया जाता है कि बीएचयू के छोटे गेट के सामने स्थित एक दुकान पर कुछ छात्र मंगलवार की शाम दवा खरीदने पहुंचे थे। तभी वहां बगल में चाय की दुकान लगाने वालों से उन लोगों की कुछ कहासुनी हो गई। जिसको लेकर विवाद हो गया। देखते ही देखते बवाल इतना बढ़ा कि मारपीट हो गई। इस दौरान नाराज छात्रों ने चाय की भट्टी तोड़ने के साथ ही वहां रखी मेज और काउंटरों को भी तोड़ दिया। घटना की सूचना पुलिस को मिली तो वो वहां पहुंची और किसी तरीके से मामला शांत कराया। इसी बीच, मारपीट की सूचना पाकर हास्टलों से काफी संख्या में छात्र लाठी डंडा लेकर पहुंचने लगे। उन्हें परिसर में ही रोका गया तो छात्र मुख्य द्वार बंद कर धरने पर बैठ गए। छात्रों ने बीएचयू के अन्य गेटों को भी बंद कर दिया। बवाल बढ़ने की सूचना पर लंका के साथ ही भेलूपुर और मंडुवाडीह थाने की फोर्स भी पहुंच गई। मौके पर चीफ प्रॉक्टर प्रोफेसर ओपी राय के साथ ही कई थानों की फोर्स पहुंची और समझाने की कोशिश में लग गई।