अनिल अंबानी ने निदेशक पद से दिया इस्तीफा, कंपनी को हुए घाटे के बाद उठाया कदम

anil
अनिल अंबानी ने निदेशक पद से दिया इस्तीफा, बढ़ते कर्ज को लेकर उठाया कदम

मुंबई। रिलांयस कम्युनिकेशंस के निदेशक अनिल अंबाली ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। अनिल अंबानी के साथ चार रिलायंस कम्युनिकेशंस के चार अन्य अधिकारियों ने भी इस्तीफा दे दिया है। कंपनी की तरफ से शनिवार को यह जानकारी दी गयी। सूत्रों की माने तो कर्ज के बोझ के चलते अनिल अंबानी समेच चार लोगों ने इस्तीफा दिया है।

Anil Ambani Resigns As Director Steps Taken On Rising Debt :

रिलायंस कम्‍युनिकेशंस को दूसरी तिमाही में 30,142 करोड़ रुपये का भारी नुकसान हुआ है। वहीं, कंपनी इन्‍सॉलवेंसी प्रक्रिया से भी गुजर रही है, जिसकी संपत्ति बिकने वाली है। बॉम्‍बे स्‍टॉक एक्‍सचेंज को दी गई जानकारी में अनिल अंबानी के अलावा इस्तीफा देने वाले चार अधिकारियों में छाया विरानी, रायना करानी, मंजरी कैकर और सुरेश रंगाचर शामिल हैं। पिछले दिनों वी. मणिकांतन ने डायरेक्टर और चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर के पद से इस्तीफा दिया था।

बता दें कि प्राइवेट सेक्टर इन दिनों मंदी की जबरदस्त मार झेल रहा है। कई मल्टीनेशनल कंपनियों पर आर्थिक मंदी का असर साफ दिखाई दे रहा है। इसी कड़ी में देश की अग्रणी कंपनियों में शामिल रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम) भी इससे अछूती नहीं है।

 

मुंबई। रिलांयस कम्युनिकेशंस के निदेशक अनिल अंबाली ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। अनिल अंबानी के साथ चार रिलायंस कम्युनिकेशंस के चार अन्य अधिकारियों ने भी इस्तीफा दे दिया है। कंपनी की तरफ से शनिवार को यह जानकारी दी गयी। सूत्रों की माने तो कर्ज के बोझ के चलते अनिल अंबानी समेच चार लोगों ने इस्तीफा दिया है। रिलायंस कम्‍युनिकेशंस को दूसरी तिमाही में 30,142 करोड़ रुपये का भारी नुकसान हुआ है। वहीं, कंपनी इन्‍सॉलवेंसी प्रक्रिया से भी गुजर रही है, जिसकी संपत्ति बिकने वाली है। बॉम्‍बे स्‍टॉक एक्‍सचेंज को दी गई जानकारी में अनिल अंबानी के अलावा इस्तीफा देने वाले चार अधिकारियों में छाया विरानी, रायना करानी, मंजरी कैकर और सुरेश रंगाचर शामिल हैं। पिछले दिनों वी. मणिकांतन ने डायरेक्टर और चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर के पद से इस्तीफा दिया था। बता दें कि प्राइवेट सेक्टर इन दिनों मंदी की जबरदस्त मार झेल रहा है। कई मल्टीनेशनल कंपनियों पर आर्थिक मंदी का असर साफ दिखाई दे रहा है। इसी कड़ी में देश की अग्रणी कंपनियों में शामिल रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम) भी इससे अछूती नहीं है।