1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. संयुक्त किसान मोर्चा का ऐलान, 29 नवंबर को संसद तक ट्रैक्टर मार्च को किया स्थगित, 4 दिसंबर को फिर करेंगे बैठक

संयुक्त किसान मोर्चा का ऐलान, 29 नवंबर को संसद तक ट्रैक्टर मार्च को किया स्थगित, 4 दिसंबर को फिर करेंगे बैठक

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर (Agriculture Minister Narendra Tomar) ने शनिवार को बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि देश में अब पराली जलाना अपराध की श्रेणी में नहीं आएगा। पराली जलाने को अपराध की श्रेणी से बाहर रखा गया है। केंद्रीय मंत्री के इस ऐलान के बाद संयुक्त किसान मोर्चा (United Kisan Morcha) ने प्रेसवार्ता की। प्रेसवार्ता के दौरान संयुक्त किसान मोर्चा (United Kisan Morcha) ने कहा कि 29 नवंबर को प्रस्तावित ट्रैक्टर रैली (tractor rally) को स्थगित कर दिया गया है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर (Agriculture Minister Narendra Tomar) ने शनिवार को बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि देश में अब पराली जलाना अपराध की श्रेणी में नहीं आएगा। पराली जलाने को अपराध की श्रेणी से बाहर रखा गया है। केंद्रीय मंत्री के इस ऐलान के बाद संयुक्त किसान मोर्चा (United Kisan Morcha) ने प्रेसवार्ता की। प्रेसवार्ता के दौरान संयुक्त किसान मोर्चा (United Kisan Morcha) ने कहा कि 29 नवंबर को प्रस्तावित ट्रैक्टर रैली (tractor rally) को स्थगित कर दिया गया है।

पढ़ें :- Kisan Andolan: तो क्या खत्म हो जाएगा अब किसान आंदोलन, मिलने लगे संकेत?

अब चार दिसंबर को मीटिंग की जाएगी। अगर सरकार ने किसान मोर्चा (Kisan Morcha) की मांगों को नहीं माना तो आगे का निर्णय लिया जाएगा। बता दें कि, किसानों ने 29 नवंबर को किसानों ने संसद कूच का निर्णय लिया था। वहीं, अब संयुक्त किसान मोर्चा (United Kisan Morcha) ने इसे स्थगित कर दिया है।

किसान मोर्चा (United Kisan Morcha) ने कहा कि सरकार को टेबल पर बैठक बात करनी चाहिए। कृषि कानूनों के वापस लेने के निर्णय के बाद अब एमएसपी पर कानून बनाना चाहिए। किसान मोर्चा (United Kisan Morcha) की तरफ से ऐलान किया गया है कि जब तक उनकी मांगों को नहीं माना जाता है ये आंदोलन जारी रहेगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...