स्‍मृति मंधाना का एक और कारनामा, विराट कोहली को पीछे छोड़ रचा इतिहास

smriti
स्‍मृति मंधाना का एक और कारनामा, विराट कोहली को पीछे छोड़ रचा इतिहास

नई दिल्ली। भारतीय महिला क्रिकेट टीम की विस्फोटक ओपनर स्मृति मंधाना ने वेस्टइंडीज में खेलते हुए इतिहास रचा है। वह वनडे क्रिकेट में सबसे तेज 2000 रन पूरा करने वाली भारतीय महिला बन गई है। इस मामले में वह भारतीय कप्तान विराट कोहली से भी आगे निकल गई हैं।

Another Act Of Smriti Mandhana History Behind Virat Kohli :

सीरीज के तीसरे और आखिरी वनडे मैच में वेस्टइंडीज को 6 विकेट से हराकर 2-1 से सीरीज भी अपने नाम कर ली। पहले बल्लेबाजी करते हुए मेजबान टीम 194 रनों पर ही सिमट गई। जवाब में टीम इंडिया (Team India) ने 47 गेंद पहले ही चार विकेट के नुकसान पर लक्ष्य हासिल कर लिया. भारत की यह बड़ी जीत स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) के नाम रहीं, जिन्होंने 63 गेंदों पर 74 रन बनाए। अपनी इस लाजवाब पारी के दम पर मंधाना ने भारतीय क्रिकेट इतिहास में एक कीर्तिमान भी स्‍थापित कर दिया।

टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए वेस्टइंडीज की टीम 194 रन बनाकर आउट हो गई। अनीसा मोहम्मद के रूप में टीम का आखिरी विकेट 50वें ओवर की आखिरी गेंद पर गिरा। इंडीज टीम के लिए स्टीफानी टेलर ने सर्वाधिक 79 रन  (112 गेंद, पांच चौके और दो छक्के) बनाए जबकि स्टेसी एन किंग ने 38 रन की पारी खेली। भारत के लिए झूलन गोस्वामी और पूनम यादव ने दो-दो विकेट हासिल किए। जवाब में खेलते हुए भारतीय महिला टीम ने जेमिमा (69) और स्मृति (74) की पारियों की बदौलत लक्ष्य चार विकेट खोकर हासिल कर लिया. हरमनप्रीत कौर (0) और दीप्ति शर्मा (4) नाबाद रहकर पवेलियन लौटीं।

51 पारियों मे बनाया 2,000 रन

23 वर्षीय मंधाना (Smriti Mandhana)ने 2,000 रन बनाने के लिए 51 पारियां लीं। इसी के साथ वह विश्व में सबसे तेज दो हजार रन बनाने वाले खिलाड़ियों की सूची में तीसरे नंबर पर आ गई हैं। उनसे ऊपर ऑस्ट्रेलिया की बेलिंडा क्लार्क और मेग लेनिंग हैं। ये दोनों ही 45-45 मैचों में 2000 रन के आंकड़े तक पहुंची थीं। वनडे में मंधाना ने अब तक 51 वनडे मुकाबलों में 43.08 की औसत से 2,025 रन बनाए हैं। इसमें चार शतक और 17 अर्धशतक शामिल हैं।

विराट कोहली और सौरव गांगुली को भी छोड़े पीछे

मंधाना के अलावा शिखर धवन ही केवल ऐसे भारतीय हैं जिनके नाम 50 ओवर में सबसे तेज दो हजार रन बनाने का रिकॉर्ड है। उन्होंने 48 पारियों में यह कीर्तिमान स्थापित किया था। पुरुष क्रिकेट के लिहाज से बात करें तो टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली 53 मैचों में 2000 वनडे रन के आंकड़े तक पहुंचे थे। उन्होंने 2000 रन तक पहुंचने के लिए स्मृति मंधाना से दो पारियां अधिक खेली थीं। सौरव गांगुली और नवजोत सिंह सिद्धू 52-52 मैचों में दो हजार रन के स्कोर तक पहुंचे थे।

नई दिल्ली। भारतीय महिला क्रिकेट टीम की विस्फोटक ओपनर स्मृति मंधाना ने वेस्टइंडीज में खेलते हुए इतिहास रचा है। वह वनडे क्रिकेट में सबसे तेज 2000 रन पूरा करने वाली भारतीय महिला बन गई है। इस मामले में वह भारतीय कप्तान विराट कोहली से भी आगे निकल गई हैं। सीरीज के तीसरे और आखिरी वनडे मैच में वेस्टइंडीज को 6 विकेट से हराकर 2-1 से सीरीज भी अपने नाम कर ली। पहले बल्लेबाजी करते हुए मेजबान टीम 194 रनों पर ही सिमट गई। जवाब में टीम इंडिया (Team India) ने 47 गेंद पहले ही चार विकेट के नुकसान पर लक्ष्य हासिल कर लिया. भारत की यह बड़ी जीत स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) के नाम रहीं, जिन्होंने 63 गेंदों पर 74 रन बनाए। अपनी इस लाजवाब पारी के दम पर मंधाना ने भारतीय क्रिकेट इतिहास में एक कीर्तिमान भी स्‍थापित कर दिया। टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए वेस्टइंडीज की टीम 194 रन बनाकर आउट हो गई। अनीसा मोहम्मद के रूप में टीम का आखिरी विकेट 50वें ओवर की आखिरी गेंद पर गिरा। इंडीज टीम के लिए स्टीफानी टेलर ने सर्वाधिक 79 रन  (112 गेंद, पांच चौके और दो छक्के) बनाए जबकि स्टेसी एन किंग ने 38 रन की पारी खेली। भारत के लिए झूलन गोस्वामी और पूनम यादव ने दो-दो विकेट हासिल किए। जवाब में खेलते हुए भारतीय महिला टीम ने जेमिमा (69) और स्मृति (74) की पारियों की बदौलत लक्ष्य चार विकेट खोकर हासिल कर लिया. हरमनप्रीत कौर (0) और दीप्ति शर्मा (4) नाबाद रहकर पवेलियन लौटीं। 51 पारियों मे बनाया 2,000 रन 23 वर्षीय मंधाना (Smriti Mandhana)ने 2,000 रन बनाने के लिए 51 पारियां लीं। इसी के साथ वह विश्व में सबसे तेज दो हजार रन बनाने वाले खिलाड़ियों की सूची में तीसरे नंबर पर आ गई हैं। उनसे ऊपर ऑस्ट्रेलिया की बेलिंडा क्लार्क और मेग लेनिंग हैं। ये दोनों ही 45-45 मैचों में 2000 रन के आंकड़े तक पहुंची थीं। वनडे में मंधाना ने अब तक 51 वनडे मुकाबलों में 43.08 की औसत से 2,025 रन बनाए हैं। इसमें चार शतक और 17 अर्धशतक शामिल हैं। विराट कोहली और सौरव गांगुली को भी छोड़े पीछे मंधाना के अलावा शिखर धवन ही केवल ऐसे भारतीय हैं जिनके नाम 50 ओवर में सबसे तेज दो हजार रन बनाने का रिकॉर्ड है। उन्होंने 48 पारियों में यह कीर्तिमान स्थापित किया था। पुरुष क्रिकेट के लिहाज से बात करें तो टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली 53 मैचों में 2000 वनडे रन के आंकड़े तक पहुंचे थे। उन्होंने 2000 रन तक पहुंचने के लिए स्मृति मंधाना से दो पारियां अधिक खेली थीं। सौरव गांगुली और नवजोत सिंह सिद्धू 52-52 मैचों में दो हजार रन के स्कोर तक पहुंचे थे।