एंटिगा वनडे : भारत-विंडीज में चौथा मैच आज

नार्थ साउंड | भारतीय टीम आज जब चौथे वनडे में विंडीज के खिलाफ मैदान पर उतरेगी तो उसकी कोशिश जीत की हैट्रिक लगाने के साथ ही सीरीज अपने नाम करने की होगी। एक बार फिर यह दोनों यहां के सर विवियन रिचर्ड्स स्टेडियम में आमने-सामने होंगी।

पहला मैच बारिश के कारण रद्द हो गया था। दूसरे और तीसरे मैच में भारत ने जीत हासिल करते हुए 2-0 की अजेय बढ़त ले ली है।

{ यह भी पढ़ें:- VIDEO: इस गेंदबाज ने कराई पाकिस्तान की बेइज्जती, जमकर हो रहा वायरल }

सलामी बल्लेबाज अंजिक्य रहाणे अभी तक खेले तीनों मैचों में 50 का आंकड़ा पार करने में सफल हुए हैं जिसमें से एक बार उन्होंने शतक जड़ा था। चैम्पियंस ट्रॉफी से ही बल्ले की चमक बिखेर रहे शिखर धवन हालांकि पिछले मैच में विफल रहे थे, लेकिन वह जिस फॉर्म में हैं उसे देखकर रनों की उम्मीद उनसे की जा सकती है।

कप्तान विराट कोहली भी बल्ले से लगातार अच्छा कर रहे हैं। बल्लेबाजी के लिए भारत के लिए एकमात्र चिंता युवराज सिंह का फॉर्म में न होना है। वहीं पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने पिछले मैच में 78 रनों की पारी खेल बता दिया है कि वह मौका मिलने पर अभी भी रन कर सकते हैं।

{ यह भी पढ़ें:- हार के बाद बौखलाए कंगारू कप्तान, बोले- हम हार के ही हकदार थे }

केदार जाधव ने भी पिछले मैच में अहम समय पर 40 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली थी। हार्दिक पांड्या को हालांकि बल्ले से ज्यादा मौका नहीं मिला है।

भारत सीरीज हारने की स्थिति में बिल्कुल नहीं है। ऐसे में वह अपनी बेंच स्ट्रैंथ को आजमा सकता है। युवा बल्लेबाज ऋषभ पंत और अनुभवी दिनेश कार्तिक दोनों ने अभी तक इस दौरे पर एक भी मैच नहीं खेला है।

कोहली ऐसे में युवराज को बिठाकर दोनों में से किसी एक को मौका दे सकते हैं। गेंदबाजी में भी भुवनेश्वर कुमार, उमेश यादव ने अच्छा प्रदर्शन किया है, लेकिन मोहम्मद शमी को अभी तक मौका नहीं मिला है। ऐसे में कोहली उन्हें मौका दे सकते हैं।

{ यह भी पढ़ें:- IND Vs AUS: अगली जीत के साथ कप्तान कोहली तोड़ देंगे कैप्टन कूल का रिकॉर्ड }

वहीं मेजबान टीम का अब सिर्फ एक लक्ष्य सीरीज में बराबरी करना है। जिस तरह का प्रदर्शन उसका अभी तक रहा है उसे देखते हुए ऐसा प्रतीत नहीं होता है कि वह इस लक्ष्य को हासिल कर पाएगी।

न ही उसके बल्लेबाज चल रहे हैं न ही गेंदबाज। पिछले मैच में जरूर विंडीज के गेंदबाजों ने भारतीय बल्लेबाजों पर लगाम लगाई थी, लेकिन इसमें पिच का स्वभाव भी बहुत बड़ा कारण था।

बल्लेबाजी में शाई होप और रॉस्टन चेस पर विंडीज की उम्मीदें हैं। वहीं गेंदबाजी में कप्तान जेसन होल्डर पर बड़ी जिम्मेदारी होगी। वहीं विंडीज की फील्डिंग भी पिछले मैच में निचले स्तर की रही है जिस पर उसका ध्यान होगा।

टीमें (संभावित) :

{ यह भी पढ़ें:- आज ही के दिन भारतीय टीम ने जीता था T-20 विश्वकप, देखें तस्वीरें }

भारत : विराट कोहली (कप्तान), महेंद्र सिंह धौनी, शिखर धवन, ऋषभ पंत, अजिंक्य रहाणे, युवराज सिंह, केदार जाधव, हार्दिक पांड्या, रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव और दिनेश कार्तिक।

वेस्टइंडीज : जेसन होल्डर (कप्तान), देवेंद्र बिशु, जॉनाथन कार्टर, रोस्टन चेस, मिग्युएल कमिंस, शाई होप (विकेटकीपर), अल्जारी जोसेफ, इविन लुइस, जेसन मोहम्मद, एशेल नर्स, केरन पावेल, रोवमैन पावेल, केसरिक विलियम्स।