रोहित शेखर की पत्नी अपूर्वा के कॉलर बोन पर बना टैटू तो नहीं हत्या का कारण?

रोहित शेखर की पत्नी अपूर्वा के कॉलर बोन पर बना टैटू तो नहीं हत्या का कारण?
रोहित शेखर की पत्नी अपूर्वा के कॉलर बोन पर बना टैटू तो नहीं हत्या का कारण?

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी को मौत के घाट उतारने वाली उसकी पत्नी अपूर्वा को जेल भेज दिया गया।वहीं इतने दिनों से चल रही पूछताछ में रोज़ नए-नए खुलासे सामने आ रहे हैं। इसी बीच अपूर्वा के बारे में एक ऐसा पहलू सामने आया है जिससे यह पता चलता है कि वो कैसी जिंदगी जीना पसंद करती है। अब कहीं यही वजह तो नहीं बनी रोहित के मौत की वजह….

Apoorva Tattoo Shows Her Way Of Life Is This The Cause Of Murder :

बताया जा रहा है कि अपूर्वा अपने ऊपर किसी तरह का बंधन नहीं चाहती है और वह आजाद रहना चाहती हैं। इस वजह से उसने अपने कॉलर बोन पर फ्री वर्ल्ड(आजाद दुनिया) लिखा हुआ टैटू भी बनवा रखा था। पूछताछ में भी अपूर्वा ने यही बताया था कि वह खुले विचारों की है और वह आजाद रहना पसंद है। वहीं पुलिस अधिकारियों का कहना है कि अपूर्वा को कभी कभी पछतावा होता है तो कभी वो कहती हैं जो हो गया वह हो गया… अब वह क्या कर सकती है। पुलिस सूत्रों का यह भी कहना है कि ये आजाद विचार की बात भी हत्या की वजह हो सकती है।

अपराध शाखा के एक अधिकारी ने बताया कि रोहित की मौत के बाद मायके वाले भी अपूर्वा के साथ हरिद्वार गए थे। पुलिस को आशंका है कि अपूर्वा रोहित की हत्या की बात किसी को बताई होगी या किसी तरह की सलाह ली होगी। इसलिए अपूर्वा पूछताछ में हर सवाल के जवाब सोच-समझकर दे रही थी। दिल्ली पुलिस बिसरा व डीएनए रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी को मौत के घाट उतारने वाली उसकी पत्नी अपूर्वा को जेल भेज दिया गया।वहीं इतने दिनों से चल रही पूछताछ में रोज़ नए-नए खुलासे सामने आ रहे हैं। इसी बीच अपूर्वा के बारे में एक ऐसा पहलू सामने आया है जिससे यह पता चलता है कि वो कैसी जिंदगी जीना पसंद करती है। अब कहीं यही वजह तो नहीं बनी रोहित के मौत की वजह.... बताया जा रहा है कि अपूर्वा अपने ऊपर किसी तरह का बंधन नहीं चाहती है और वह आजाद रहना चाहती हैं। इस वजह से उसने अपने कॉलर बोन पर फ्री वर्ल्ड(आजाद दुनिया) लिखा हुआ टैटू भी बनवा रखा था। पूछताछ में भी अपूर्वा ने यही बताया था कि वह खुले विचारों की है और वह आजाद रहना पसंद है। वहीं पुलिस अधिकारियों का कहना है कि अपूर्वा को कभी कभी पछतावा होता है तो कभी वो कहती हैं जो हो गया वह हो गया... अब वह क्या कर सकती है। पुलिस सूत्रों का यह भी कहना है कि ये आजाद विचार की बात भी हत्या की वजह हो सकती है। अपराध शाखा के एक अधिकारी ने बताया कि रोहित की मौत के बाद मायके वाले भी अपूर्वा के साथ हरिद्वार गए थे। पुलिस को आशंका है कि अपूर्वा रोहित की हत्या की बात किसी को बताई होगी या किसी तरह की सलाह ली होगी। इसलिए अपूर्वा पूछताछ में हर सवाल के जवाब सोच-समझकर दे रही थी। दिल्ली पुलिस बिसरा व डीएनए रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।