राज्यों की केंद्र सरकार से अपील, बढ़ाई जाए लॉकडाउन की अवधि

Lockdown

नई दिल्ली: कोरोने वायरस से निपटने के लिए देशभर को 24 मार्च से 21 दिनों के लिए पूर्ण रूप से लॉकडाउन किया गया है। सूत्रों के मुताबिक जिस तेजी से भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है उसे देखते हुए कई राज्य सरकारों और विशेषज्ञों ने केंद्र सरकार से अपील की है कि वह लॉकडाउन की अवधि को और बढ़ा दें। इससे पहले मंगलवार को गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह कोविड-19 को लेकर मंत्री समूह की बैठक की अध्यक्षता की।

Appeal To The Central Government Of The States Increase The Lockdown Period :

इस बैठक में लॉकडाउन पर चर्चा हुई। इस दौरान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री रामविलास पासवान, सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर आदि मंत्री मौजूद रहे। हालाँकि केंद्र सरकार ने लॉकडाउन को बढ़ाने या खत्म करने को लेकर कोई फैसला नहीं लिया है। मोदी सरकार में मंत्री का कहना है कि लॉकडाउन को लेकर कोई फैसला नहीं लिया गया है। मंत्री समूह की बैठक राजनाथ सिंह के घर हुई।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पूरे राज्य में लॉकडाउन को एकसाथ हटाने की संभावना से इनकार कर दिया है। उन्होंने कहा कि इस पर चरणबद्ध तरीके से कदम उठाया जाएगा। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि स्थिति को देखते हुए लॉकडाउन पर फैसला लिया जाएगा। कोरोना संक्रमण को देखते हुए अगर लॉकडाउन की जरूरत पड़ती है तो इसे आगे भी बढ़ाया जाना चाहिए।

वहीं दूसरी तरफ, सरकार के पोर्टल MyGovIndia के ट्विटर हैंडल से आज दोपहर लॉकडाउन हटाने की खबरों को ‘निराधार’ बताया गया। हालांकि कुछ ही समय बाद ये ट्वीट डिलीट कर दिया गया। जानकारी के अनुसार MyGovIndia ने कैबिनेट सचिव राजीव गौबा के हवाले से लिखा था क‍ि 21 दिन के लॉकडाउन को बढ़ाने की कोई योजना नहीं है। ट्वीट में इसे बकायदा फैक्‍ट चेक कहा गया। ट्वीट था, ‘लॉकडाउन के एक्‍सटेंशन से जुड़े दावे निराधार हैं और सरकार ने अभी तक इस बारे में कोई नोटिफिकेशन जारी नहीं किया है। ऐसी अफवाहों के शिकार ना बनें।’

महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली समेत कई प्रदेशों में मरीजों की संख्या अचानक बढ़ी है। तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने केंद्र सरकार को सुझाव दिया था कि लॉकडाउन को और दो हफ्तों के लिए बढ़ा दिया जाए। केसीआर ने जिस रिपोर्ट के आधार पर यह सुझाव दिया था, उसमें 2 जून तक लॉकडाउन लागू करने की अपील की गई थी। वहीं उपराष्‍ट्रपति वेंकैया नायडू ने भी इशारों में लॉकडाउन बढ़ने के संकेत दिए हैं। उन्‍होंने कहा कि लॉकडाउन से बाहर निकलने में तीसरा सप्‍ताह बेहद अहम है। उन्‍होंने कहा कि 14 अप्रैल के बाद जो भी फैसला हो, लोग उसका उसी तरह पालन करें जैसे अबतक करते आए हैं। उन्‍होंने कहा कि अर्थव्‍यवस्‍था के संकट पर किसी और दिन चिंता की जा सकती है मगर स्‍वास्‍थ्‍य पर नहीं।

नई दिल्ली: कोरोने वायरस से निपटने के लिए देशभर को 24 मार्च से 21 दिनों के लिए पूर्ण रूप से लॉकडाउन किया गया है। सूत्रों के मुताबिक जिस तेजी से भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है उसे देखते हुए कई राज्य सरकारों और विशेषज्ञों ने केंद्र सरकार से अपील की है कि वह लॉकडाउन की अवधि को और बढ़ा दें। इससे पहले मंगलवार को गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह कोविड-19 को लेकर मंत्री समूह की बैठक की अध्यक्षता की। इस बैठक में लॉकडाउन पर चर्चा हुई। इस दौरान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री रामविलास पासवान, सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर आदि मंत्री मौजूद रहे। हालाँकि केंद्र सरकार ने लॉकडाउन को बढ़ाने या खत्म करने को लेकर कोई फैसला नहीं लिया है। मोदी सरकार में मंत्री का कहना है कि लॉकडाउन को लेकर कोई फैसला नहीं लिया गया है। मंत्री समूह की बैठक राजनाथ सिंह के घर हुई। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पूरे राज्य में लॉकडाउन को एकसाथ हटाने की संभावना से इनकार कर दिया है। उन्होंने कहा कि इस पर चरणबद्ध तरीके से कदम उठाया जाएगा। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि स्थिति को देखते हुए लॉकडाउन पर फैसला लिया जाएगा। कोरोना संक्रमण को देखते हुए अगर लॉकडाउन की जरूरत पड़ती है तो इसे आगे भी बढ़ाया जाना चाहिए। वहीं दूसरी तरफ, सरकार के पोर्टल MyGovIndia के ट्विटर हैंडल से आज दोपहर लॉकडाउन हटाने की खबरों को 'निराधार' बताया गया। हालांकि कुछ ही समय बाद ये ट्वीट डिलीट कर दिया गया। जानकारी के अनुसार MyGovIndia ने कैबिनेट सचिव राजीव गौबा के हवाले से लिखा था क‍ि 21 दिन के लॉकडाउन को बढ़ाने की कोई योजना नहीं है। ट्वीट में इसे बकायदा फैक्‍ट चेक कहा गया। ट्वीट था, 'लॉकडाउन के एक्‍सटेंशन से जुड़े दावे निराधार हैं और सरकार ने अभी तक इस बारे में कोई नोटिफिकेशन जारी नहीं किया है। ऐसी अफवाहों के शिकार ना बनें।' महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली समेत कई प्रदेशों में मरीजों की संख्या अचानक बढ़ी है। तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने केंद्र सरकार को सुझाव दिया था कि लॉकडाउन को और दो हफ्तों के लिए बढ़ा दिया जाए। केसीआर ने जिस रिपोर्ट के आधार पर यह सुझाव दिया था, उसमें 2 जून तक लॉकडाउन लागू करने की अपील की गई थी। वहीं उपराष्‍ट्रपति वेंकैया नायडू ने भी इशारों में लॉकडाउन बढ़ने के संकेत दिए हैं। उन्‍होंने कहा कि लॉकडाउन से बाहर निकलने में तीसरा सप्‍ताह बेहद अहम है। उन्‍होंने कहा कि 14 अप्रैल के बाद जो भी फैसला हो, लोग उसका उसी तरह पालन करें जैसे अबतक करते आए हैं। उन्‍होंने कहा कि अर्थव्‍यवस्‍था के संकट पर किसी और दिन चिंता की जा सकती है मगर स्‍वास्‍थ्‍य पर नहीं।