1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Archana Pandey jeevan parichay : अर्चना पांडेय पहली बार बनीं विधायक, सीएम योगी ने दिया मंत्री पद का इनाम

Archana Pandey jeevan parichay : अर्चना पांडेय पहली बार बनीं विधायक, सीएम योगी ने दिया मंत्री पद का इनाम

Archana Pandey jeevan parichay : यूपी (UP) के कन्नौज जिले में निर्वाचन क्षेत्र - 196, छिबरामऊ विधानसभा सीट (Chhibramau constituency) पर भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) के टिकट पर अर्चना पांडेय (Archana Pandey) उत्तर प्रदेश की 17वीं विधानसभा  (17th Uttar Pradesh legislative assembly) में पहली बार विधायक चुनी गई हैं। इसके बाद सीएम योगी (CM Yogi)  ने उनको इनाम देते हुए खनन, उत्पाद शुल्क और निषेध राज्य मंत्री (2017-19) पद से नवाजा। छिबरामऊ (Chhibramau ) की लड़ाई अर्चना पांडेय ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी (बसपा) ताहिर हुसैन सिद्दीकी (Tahir Hussain Siddiqui) को 37,224 मतों से हराया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Archana Pandey jeevan parichay : यूपी (UP) के कन्नौज जिले में निर्वाचन क्षेत्र – 196, छिबरामऊ विधानसभा सीट (Chhibramau constituency) पर भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) के टिकट पर अर्चना पांडेय (Archana Pandey) उत्तर प्रदेश की 17वीं विधानसभा  (17th Uttar Pradesh legislative assembly) में पहली बार विधायक चुनी गई हैं। इसके बाद सीएम योगी (CM Yogi)  ने उनको इनाम देते हुए खनन, उत्पाद शुल्क और निषेध राज्य मंत्री (2017-19) पद से नवाजा। छिबरामऊ (Chhibramau ) की लड़ाई अर्चना पांडेय ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी (बसपा) ताहिर हुसैन सिद्दीकी (Tahir Hussain Siddiqui) को 37,224 मतों से हराया है।

पढ़ें :- Isudan Gadhvi Biography: जानिए कौन है ईसूदान गढ़वी ​जिनको AAP ने बनाया गुजरात में मुख्यमंत्री का चेहरा?

प्रारंभिक जीवन और शिक्षा

अर्चना पांडेय का जन्म 05 जून, 1960 को भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party)  के पूर्व सांसद, पूर्व कैबिनेट मंत्री,चार बार के विधायक और उत्तर प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) की राज्य इकाई के पूर्व महासचिव और उपाध्यक्ष स्वर्गीय राम प्रकाश त्रिपाठी के घर हुआ था। अर्चना पांडेय हाउस नंबर 244, मोहल्ला बजरिया, छिबरामऊ कन्नौज यूपी में रहती हैं।

उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा छिबरामऊ गर्ल्स इंटर कॉलेज छिब्रमऊ कन्नौज यूपी इंडिया से पूरी की है। 1980 में, उन्होंने इलाहाबाद विश्वविद्यालय भारत से एमए (अंग्रेजी साहित्य) में स्नातकोत्तर पूरा किया। उनके पति का नाम राजेश प्रकाश पांडेय है। उनका स्व-पेशा सामाजिक कार्य है और उनके पति एक व्यवसायी के रूप में काम करते हैं। उनके दो बेटे हैं आशीष पांडेय (बैंकिंग क्षेत्र में कार्यरत) और राहुल रतन (बिजनेस मैन)।

अर्चना पांडेय को सामाजिक कार्यों और सक्रिय राजनीति में लगभग 25 वर्षों का है अनुभव 

पढ़ें :- Rama Shankar Singh Patel jeevan parichay : रमाशंकर दिग्गज कांग्रेसी को हराकर बने विधायक, योगी ने दिया मंत्री पद

अर्चना पांडेय को सामाजिक कार्यों और सक्रिय राजनीति में लगभग 25 वर्षों का अनुभव है। उन्होंने 2012 में छिबारमऊ में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से विधायक चुनाव में भाग लिया। वह छह साल के उपभोक्ता मंच की पूर्व सदस्य, समाज कल्याण बोर्ड (यूपी) की पूर्व सदस्य और ग्रामीण बैंक की पूर्व निदेशक थीं। वह भाजपा उत्तर प्रदेश से कार्यसमिति की सदस्य हैं। वह दो बार राष्ट्रीय परिषद भाजपा की सदस्य और तीन बार उत्तर प्रदेश के लिए महिला मोर्चा भाजपा की सचिव रहीं।

ये है पूरा सफरनामा
नाम –अर्चना पाण्‍डेय
निर्वाचन क्षेत्र – 196, छिबरामऊ, जिला कन्नौज
दल – भारतीय जनता पार्टी
पिता का नाम- स्व. राम प्रकाश त्रिपाठी
जन्‍म तिथि- 05 जून, 1960
जन्‍म स्थान- छिबरामऊ
धर्म- हिन्दू
जाति- ब्राह्मण
शिक्षा- स्नातकोत्तर
विवाह तिथि- 19 फरवरी, 1979
पति का नाम- राजेश प्रकाश पाण्डेय
सन्तान- दो पुत्र

मुख्यावास- बजरिया, छिबरामऊ, जिला-कन्नौज

राजनीतिक योगदान
मार्च, 2017 सत्रहवीं विधान सभा की सदस्या प्रथम बार निर्वाचित
मार्च, 2017 पूर्व राज्यमंत्री, भूतत्व व खनिकर्म एवं आबकारी मद्यनिषेध ( योगी आदित्यनाथ मंत्रिमण्डल)

पढ़ें :- Ratnakar Mishra jeevan parichay : मां विंध्यवासिनी मंदिर के पुरोहित रत्नाकर मिश्रा बने विधायक, 20 साल बाद खिलाया कमल
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...