दंत चिकित्सक आरिफ अलवी बने पाकिस्तान के 13वें राष्ट्रपति

dr. arif alwi
दंत चिकित्सक आरिफ अलवी बने पाकिस्तान के 13वें राष्ट्रपति

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री इमरान खान के करीबी और पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के संस्थापक सदस्यों में शामिल आरिफ अलवी ने रविवार को पाकिस्तान के नये राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली। यहां से प्रधान न्यायाधीश साकिब निसार ने ऐवान-ए-सद्र में आयोजित समारोह में 69 वर्षीय अलवी को 13वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ दिलाई। अलवी पेशे से दंत चिकित्सक है।

Arif Alwi Took Oath 13th President Of Pakistan :

पूर्व राष्ट्रपति ममनून हुसैन ने शनिवार को राष्ट्रपति भवन खाली कर दिया था। प्रधानमंत्री इमरान खान, सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा और विदेशी राजनयिकों सहित तमाम अधिकारी इस शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए। अलवी को चार सितंबर को हुए चुनाव में पाकिस्तान का नया राष्ट्रपति चुना गया था।

अलवी ने पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के उम्मीदवार ऐतजाज अहसन और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-एन के उम्मीदवार मौलाना फजल—उर—रहमान को मात दी। नेशनल असेंबली और सीनेट में पड़े कुल 430 मतों में से अलवी को 212 मत मिले थे। रहमान को 131 और अहसन को 81 मत मिले थे। इसके अलावा छह मत खारिज कर दिए गए।

शपथ ग्रहण के बाद अपने पहले भाषण में अलवी ने प्रधानमंत्री खान को उन्हें इतनी बड़ी जिम्मेदारी के लिए नामांकित करने पर धन्यवाद दिया था। अलवी ने कहा था, आज से मैं सिर्फ पीटीआई द्वारा नामित राष्ट्रपति नहीं हूं, बल्कि मैं पूरे देश और सभी दलों का राष्ट्रपति हूं। सभी दल मेरे समक्ष समान हैं।

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री इमरान खान के करीबी और पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के संस्थापक सदस्यों में शामिल आरिफ अलवी ने रविवार को पाकिस्तान के नये राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली। यहां से प्रधान न्यायाधीश साकिब निसार ने ऐवान-ए-सद्र में आयोजित समारोह में 69 वर्षीय अलवी को 13वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ दिलाई। अलवी पेशे से दंत चिकित्सक है। पूर्व राष्ट्रपति ममनून हुसैन ने शनिवार को राष्ट्रपति भवन खाली कर दिया था। प्रधानमंत्री इमरान खान, सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा और विदेशी राजनयिकों सहित तमाम अधिकारी इस शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए। अलवी को चार सितंबर को हुए चुनाव में पाकिस्तान का नया राष्ट्रपति चुना गया था। अलवी ने पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के उम्मीदवार ऐतजाज अहसन और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-एन के उम्मीदवार मौलाना फजल—उर—रहमान को मात दी। नेशनल असेंबली और सीनेट में पड़े कुल 430 मतों में से अलवी को 212 मत मिले थे। रहमान को 131 और अहसन को 81 मत मिले थे। इसके अलावा छह मत खारिज कर दिए गए। शपथ ग्रहण के बाद अपने पहले भाषण में अलवी ने प्रधानमंत्री खान को उन्हें इतनी बड़ी जिम्मेदारी के लिए नामांकित करने पर धन्यवाद दिया था। अलवी ने कहा था, आज से मैं सिर्फ पीटीआई द्वारा नामित राष्ट्रपति नहीं हूं, बल्कि मैं पूरे देश और सभी दलों का राष्ट्रपति हूं। सभी दल मेरे समक्ष समान हैं।