1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Army Chief MM Naravane पहुंचे फॉरवर्ड पोस्ट पर, सेना को दे सकते हैं ये बड़ा आदेश

Army Chief MM Naravane पहुंचे फॉरवर्ड पोस्ट पर, सेना को दे सकते हैं ये बड़ा आदेश

भारतीय सेना प्रमुख (Indian Army Chief) जनरल एमएम नरवणे (MM Naravane) मंगलवार को जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में व्हाइट नाइट कोर (white knight corps) के अग्रिम इलाकों का दौरा किया है। इसके साथ ही नियंत्रण रेखा (Line of control) पर स्थिति का जायजा लिया है। जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir)  में आम नागरिकों की हत्या के अलावा पुंछ में आतंकी हमले में नौ जवान शहीद हो गए थे।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। भारतीय सेना प्रमुख (Indian Army Chief) जनरल एमएम नरवणे (MM Naravane) मंगलवार को जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में व्हाइट नाइट कोर (white knight corps) के अग्रिम इलाकों का दौरा किया है। इसके साथ ही नियंत्रण रेखा (Line of control) पर स्थिति का जायजा लिया है। जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir)  में आम नागरिकों की हत्या के अलावा पुंछ में आतंकी हमले में नौ जवान शहीद हो गए थे। इन सबके के बीच नरवणे का दौरा काफी अहम माना जा रहा है। एमएम नरवणे को सैन्य कमांडरों ने उन्हें वर्तमान स्थिति और चल रहे घुसपैठ विरोधी अभियानों के बारे में जानकारी दी।

पढ़ें :- Jammu and Kashmir: आतंकवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दन के दो सहयोगी गिरफ्तार, हथियार बरामद

बता दें कि पुंछ में नौ सैनिकों की शहादत और आतंकियों के खिलाफ जारी ऑपरेशन के बीच सेना प्रमुख (Army Chief) एमएम नरवणे (MM Naravane)  दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे हैं। दौरे के पहले दिन उन्होंने सैन्य अधिकारियों के साथ बैठक कर सुरक्षा हालात की जानकारी ली। यहां उनके साथ व्हाइट नाइट कोर के जीओसी(JOC), उत्तरी कमान के जीओसी (JOC) समेत अन्य अफसर मौजूद थे। इसके वाद वह नगरोटा सैन्य मुख्यालय पहुंचे। एमएम नरवणे (MM Naravane) ने सैन्य अधिकारियों से कहा है कि पुंछ में घेरे गए आतंकी किसी कीमत पर भागने नहीं चाहिए।

पुंछ में अतिरिक्त पैरा कमांडो और सैन्य कर्मियों को भेजा

सूत्रों का कहना है कि पुंछ में अतिरिक्त पैरा कमांडो और सैन्य कर्मियों को भेजा गया है। जंगलों में छिपे आतंकियों की तलाश कर ऑपरेशन को पूरी एहतियात बरतते हुए जल्द खत्म करने की रणनीति के तहत यह कदम उठाया गया है।

बता दें कि जम्मू कश्मीर के कुलगाम जिले में रविवार को आतंकवादियों ने दो गैर-स्थानीय मजदूरों की गोली मारकर हत्या कर दी थी। एक अन्य को घायल कर दिया था। जम्मू कश्मीर में 24 घंटे से भी कम समय में गैर-स्थानीय मजदूरों पर यह तीसरा हमला था। बिहार के एक रेहड़ी-पटरी वाले और उत्तर प्रदेश के एक बढ़ई की शनिवार शाम को आतंकवादियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसके अलावा बीते 15 दिनों में 13 गैर-कश्मीरियों की हत्या की गई है।

पढ़ें :- कुलगाम में सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में एक आतंकी को किया ढ़ेर, सर्च आपरेशन तेज

आतंकियों को बेअसर करने का चल रहा अभियान

पुंछ-राजौरी सेक्टर में बढ़ते आतंकवाद विरोधी अभियानों की भी सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे समीक्षा करेंगे। पुंछ सेक्टर में पिछले एक पखवाड़े में सैन्य गतिविधियां तेज हो गई हैं क्योंकि वहां नौ सेना के जवान शहीद हो गए थे। 16 कोर क्षेत्र में आतंकवादियों को बेअसर करने के लिए ऑपरेशन अभी भी जारी है। छह महीने की शांति के बाद, भीतरी इलाकों में आतंकवादी गतिविधियां तेज हो गई हैं और जम्मू क्षेत्र में संघर्ष विराम उल्लंघन के प्रयास भी बढ़ रहे हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...