LOC पर पाकिस्तान ने की कोई हरकत तो सिखायेंगे सबक : सेना प्रमुख

vipin rawat
LOC पर पाकिस्तान ने की कोई हरकत तो सिखायेंगे सबक : सेना प्रमुख

नई दिल्ली। जम्मू—कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। इसको लेकर वह धमकियां भी दे रहा है, जिसके कारण इस समय भारत और पाकिस्तान के रिश्तों के बीच और तल्खी बढ़ गई है। जो इस समय लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) पर भी दिख रही है। खबर है कि पाकिस्तानी सेना एलओसी की ओर बढ़ रही है और लद्दाख के सामने अपने एयरबेस में लड़ाकू विमानों की तैनाती कर रही है।

Army Chief Vipin Rawat Warns Pakistan :

पाकिस्तान की इस तैयारी को देख सेना प्रमुख विपिन रावत ने उन्हें चेतावती दी है। उन्होंने कहा कि, हम अलर्ट हैं। अगर वह एलओसी पर आना चाहते हैं तो उन पर निर्भर करता है। उनको इसका जवाब भी मिलेगा। जम्मू-कश्मीर के हालात पर सेना प्रमुख बिपिन रावत ने कहा कि कश्मीरी लोगों के साथ हमारी बातचीत पहले की तरह सामान्य है। हम उनसे बिना बंदूक के मिलते थे और उम्मीद है कि हम उनसे बिना बंदूक के मिलते रहेंगे।

गौरतलब है कि, अनुच्छेद 370 हटने के बाद पाकिस्तान इस मुद्दे पर दुनिया के सामने मदद की गुहार लगा रहे हैं लेकिन पाकिस्तान के प्रोपेगेंडा को किसी देश में तवज्जो नहीं मिल रही है। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी चीन दौरे पर मदद मांगने गए थे लेकिन वहां भी पाकिस्तान को निराशा हाथ लगी है।

नई दिल्ली। जम्मू—कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। इसको लेकर वह धमकियां भी दे रहा है, जिसके कारण इस समय भारत और पाकिस्तान के रिश्तों के बीच और तल्खी बढ़ गई है। जो इस समय लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) पर भी दिख रही है। खबर है कि पाकिस्तानी सेना एलओसी की ओर बढ़ रही है और लद्दाख के सामने अपने एयरबेस में लड़ाकू विमानों की तैनाती कर रही है। पाकिस्तान की इस तैयारी को देख सेना प्रमुख विपिन रावत ने उन्हें चेतावती दी है। उन्होंने कहा कि, हम अलर्ट हैं। अगर वह एलओसी पर आना चाहते हैं तो उन पर निर्भर करता है। उनको इसका जवाब भी मिलेगा। जम्मू-कश्मीर के हालात पर सेना प्रमुख बिपिन रावत ने कहा कि कश्मीरी लोगों के साथ हमारी बातचीत पहले की तरह सामान्य है। हम उनसे बिना बंदूक के मिलते थे और उम्मीद है कि हम उनसे बिना बंदूक के मिलते रहेंगे। गौरतलब है कि, अनुच्छेद 370 हटने के बाद पाकिस्तान इस मुद्दे पर दुनिया के सामने मदद की गुहार लगा रहे हैं लेकिन पाकिस्तान के प्रोपेगेंडा को किसी देश में तवज्जो नहीं मिल रही है। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी चीन दौरे पर मदद मांगने गए थे लेकिन वहां भी पाकिस्तान को निराशा हाथ लगी है।