1. हिन्दी समाचार
  2. घरेलू उड़ानों में 14 से कम उम्र के बच्चों के लिए अनिवार्य नहीं आरोग्य सेतु ऐप

घरेलू उड़ानों में 14 से कम उम्र के बच्चों के लिए अनिवार्य नहीं आरोग्य सेतु ऐप

Arogya Setu App Not Mandatory For Children Under 14 In Domestic Flights

By बलराम सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। एयरपोर्ट अथोरिटी ऑफ इंडिया ने सोमवार से दोबारा शुरू हो रही घरेलू उड़ानों के लिए एक एसओपी जारी की है। इसमें कहा गया है कि 14 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप रखना जरूरी नहीं होगा।इसमें कहा गया कि यात्रियों को हवाई अड्डे के टर्मिनल भवन में प्रवेश करने से पहले अनिवार्य रूप से शहर की तरफ ही थर्मल स्क्रीनिंग जोन से गुजरना होगा। साथ ही हवाई अड्डे के संचालकों को टर्मिनल भवन में प्रवेश से पहले यात्रियों के सामानों के सैनिटेशन की उचित व्यवस्था करनी होगा।

पढ़ें :- 10वीं पास के लिए SBI ने निकाली भर्ती, ऐसे कर सकतें हैं जल्द अप्लाई

कोरोना संक्रमण के कारण देश में लॉकडाउन का चौथा चरम जारी है। इस बीच सरकार देश की रुकी हुई गति को धीरे-धीरे रफ्तार देने में जुटी हुई है। लॉकडाउन के बीच केंद्र सरकार ने रेलवे के बाद अब डोमेस्टिक फ्लाइट सर्विस शुरू करने का फैसला किया है। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने इस बात की जानकारी दी है। देश के सभी हवाईअड्डों और डोमेस्टिक एयरलाइंस को 25 मई से पहले सभी तैयारी पूरी कर लेने के लिए कहा गया है। आपको बता दें कि इससे पहले सरकार ने ट्रेन चलाने का फैसला लिया था। पहले एसी ट्रेन चलाए गए। अब रेलवे ने नॉन एसी ट्रेन चलाने का भी फैसला किया है।

कोरोना संक्रमण के कारण देश में लॉकडाउन का चौथा चरम जारी है। इस बीच सरकार देश की रुकी हुई गति को धीरे-धीरे रफ्तार देने में जुटी हुई है। लॉकडाउन के बीच केंद्र सरकार ने रेलवे के बाद अब डोमेस्टिक फ्लाइट सर्विस शुरू करने का फैसला किया है। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने इस बात की जानकारी दी है। देश के सभी हवाईअड्डों और डोमेस्टिक एयरलाइंस को 25 मई से पहले सभी तैयारी पूरी कर लेने के लिए कहा गया है।

आपको बता दें कि इससे पहले सरकार ने ट्रेन चलाने का फैसला लिया था। पहले एसी ट्रेन चलाए गए। अब रेलवे ने नॉन एसी ट्रेन चलाने का भी फैसला किया है। रेल की तरह हवाई जहाज की यात्रा करते समय भी सोशल डिस्टेंसिंग और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के गाइडलाइंस का पूरा ख्याल रखा जाएगा। जल्द ही नागरिक उड्डयन मंत्रालय की तरफ से विस्तार से इसकी जानकारी दी जाएगी। हालांकि अभी आंशिक रूप से ही फ्लाइट सर्विस शुरू की जाएगी।

पढ़ें :- कई राज्यों में बर्बाद हो रही वैक्सीन खुराक, झिझक के कारण टीका लगवाने नहीं आ रहे लोग

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...