1. हिन्दी समाचार
  2. आरोग्य सेतु: पहचान बताए, कोरोना वायरस से जान बचाए

आरोग्य सेतु: पहचान बताए, कोरोना वायरस से जान बचाए

By आराधना शर्मा 
Updated Date

Arogya Setu Identify Save Lives From Corona Virus

लखनऊ: कोरोना वायरस के बढ़ते फैलाव के मद्देनजर आज इंसान, इंसान के प्रति सशंकित दिख रहा है। हर शख्स इसी डर में है कि वह जिससे मिल रहा है या जिसके पड़ोस में रह रहा है वह कोरोना संक्रमित तो नहीं है। आपका यह डर आरोग्य सेतु ऐप दूर कर सकता है। यह ऐप आपको अलर्ट करता है कि आपके आस-पास कितनी दूरी पर कोरोना संक्रमित है। इस तरह आप खुद को, अपने परिवार और दूसरों को सुरक्षित कर सकते हैं।

पढ़ें :- न्यू-जेन मर्सिडीज-बेंज एस-क्लास की कुछ मुख्य विशेषताएं

कोरोना से लड़ने के लिए आरोग्य सेतु ऐप को सरकार ने सबसे अहम हथियार बताया है। आरोग्य सेतु ऐप कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग ऐप है जो बखूबी आपके 500 मीटर से 10 किलोमीटर के बीच किसी संक्रमित के होने के बारे में अलर्ट करता है। यह ऐप आपकी सेहत के बारे में भी बताता है। आप किन लोगों से मिले हैं…उनकी सेहत के बारे में भी अलर्ट करता है।

आरोग्य सेतु ऐप से आप जरूरत पड़ने पर यह भी जान सकते हैं कि कोरोना का टेस्ट करने वाली लेबारोट्री आपसे कितनी दूर है। इस ऐप के माध्यम से आप कोरोना से बचाव के तरीके के बारे में जागरूक हो सकते हैं। साथ ही देश और सभी प्रदेशों के कोरोना का लेटेस्ट अपडेट भी जान सकते हैं।

अपर मुख्य सचिव- स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद के मुताबिक अब तक इस ऐप के माध्यम से विभाग को तकरीबन दो लाख अलर्ट मिले, जिनपर फोन करके लोगों का हाल पूछा गया और उनमें से कुछ लोग कोरोना लक्षण वाले मिले, जिनका टेस्ट भी कराया गया।

कैसे काम करते हैं कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग ऐप?

पढ़ें :- WTC Final : साउथैम्पटन में टीम इंडिया पहली पारी में 217 पर ऑल आउट, जैमिसन ने झटके पांच विकेट

कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग ऐप लोकेशन और ब्लूटूथ आधारित होते हैं। ब्लूटूथ आधारित ऐप सोशल डिस्टेंसिंग की जांच करता है, क्योंकि ब्लूटूथ की रेंज 10 मीटर तक होती है और सरकार ने सोशल डिस्टेंसिंग के लिए छह मीटर की दूरी निर्धारित की है, जबकि कई शोध में इसे आठ मीटर भी बताया गया है। 10 मीटर की रेंज में किसी के संपर्क में आने पर ब्लूटूथ आधारित ऐप लोगों को अलर्ट करते हैं। लोकेशन आधारित ऐप्स की बात करें तो यदि आपके फोन में ऐसे ऐप्स हैं और आप किसी कोरोना संक्रमित इलाके में जाते हैं तो ऐप आपको अलर्ट करेगा।

कैसे काम करता है आरोग्य सेतु ऐप?

अब बात करें केन्द्र सरकार के आरोग्य सेतु ऐप की तो इस ऐप को सरकार ने दो अप्रैल को लॉन्च किया था और अब तक इसके यूजर्स की संख्या 14.18 करोड़ के पार पहुंच गई है। यह ऐप एंड्रॉयड और आईओएस दोनों डिवाइस के लिए उपलब्ध है। आरोग्य सेतु ऐप लोकेशन आधारित ऐप है। कोई भी स्मार्ट फोन यूसर इस ऐप को अपने मोबाइल में प्ले स्टोर में जाकर डाउनलोड कर सकता है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X