अरविंद केजरीवाल के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी, हो सकती है 2 साल की सजा

Arrest Warrant Against Delhi Cm Arvind Kejriwal

नई दिल्ली| दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविन्द केजरीवाल के खिलाफ असम की स्थानीय अदालत ने आपराधिक मानहानि के मामले में गिरफ्तारी का वारंट जारी किया है| कोर्ट ने पिछली सुनवाई में अदालत में केजरीवाल के हाजिर न होने के बाद ये वारंट जारी किया है|




केजरीवाल ने दिल्ली में एमसीडी चुनाव के चलते पेशी के लिए और समय की मांग की थी| हालांकि कोर्ट ने उन्हें और समय न देते हुए उनकी अर्जी को खारिज कर दिया| कोर्ट ने कहा कि इससे पहले भी उन्हें 30 जनवरी 2017 को पेश होने का आदेश दिया गया था, लेकिन केजरीवाल पेश नहीं हुए| उन्हें दो महीने का समय दिया गया, इसके बावजूद वे पेश नहीं हुए| कोर्ट ने इस बात का संज्ञान लेते हुए केजरीवाल के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है|



यह है मामला

अरविन्द केजरीवाल ने 15 दिसंबर 2016 को ट्वीट करते हुए लिखा था, ‘मोदीजी 12वीं पास हैं, उसके बाद की डिग्री फर्जी है|’ उनके इस ट्वीट पर भाजपा नेता सूर्य रोंगफर ने केजरीवाल के खिलाफ मानहानि का केस किया था| जिसके बाद पुलिस ने केजरीवाल के खिलाफ आईपीसी की धारा 499, धारा 500 और धारा 501 में मुकदमा दर्ज किया था| मानहानि के इन अपराधों के लिए धारा 500, 501 व 502 में दो वर्ष तक की कैद की सजा का प्रावधान किया गया है| कोर्ट के समक्ष पेश ना होने पर उनके खिलाफ वारंट जारी किया गया है| हालांकि गुरप्रीत सिंह उप्पल की और से कोर्ट में याचिका दायर कर कहा गया था कि दिल्ली में एमसीडी चुनाव के चलते केजरीवाल का कोर्ट के समक्ष पेश होना संभव नहीं है| कोर्ट ने गुरप्रीत के ेयाचिका को खारिज कर दिया|

नई दिल्ली| दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविन्द केजरीवाल के खिलाफ असम की स्थानीय अदालत ने आपराधिक मानहानि के मामले में गिरफ्तारी का वारंट जारी किया है| कोर्ट ने पिछली सुनवाई में अदालत में केजरीवाल के हाजिर न होने के बाद ये वारंट जारी किया है| केजरीवाल ने दिल्ली में एमसीडी चुनाव के चलते पेशी के लिए और समय की मांग की थी| हालांकि कोर्ट ने उन्हें और समय न देते हुए उनकी अर्जी को खारिज…