अरुण जेटली ने पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी, कहा, स्वास्थ्य ठीक नहीं है, सरकार में ना दे कोई पद

arun jetali
अरुण जेटली ने पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी, कहा, स्वास्थ्य ठीक नहीं है, सरकार में ना दे कोई पद

नई दिल्ली। नरेन्द्र मोदी 30 मई को दोबारा पीएम पद की शपथ लेने जा रहे हैं। मोदी सरकार के मंत्रियों की लिस्ट भी तैयार हो चुकी है। इस बीच अरुण जेटली ने पीएम मोदी को एक चिट्ठी लिखी है, जिसमें उन्होंने अपने खराब स्वास्थ्य का हवाल देते हुए कहा कि उन्हें नई सरकार में कोई पद ना दें। जेटली पिछले 18 महीनों से बीमार चल रहे हैं। हाल में ही उनकी एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी, जिसमें देखकर उनके गिरते हुए स्वास्थ्य का अंदाजा लगाया जा सकता है।

Arun Jaitley Wrote A Letter To Pm Modi Saying Health Is Not Good No Post In Government :

अरुण जेटली ने पीएम मोदी को लिखे पत्र में कहा है कि उन्हें दूसरे कार्यकाल में मंत्री नहीं बनाया जाये। इसके लिए उन्होंने अपने खराब स्वाथ्स्य का जिक्र किया है। उन्होंने लिखा है कि डॉक्टरों ने उन्हें अभी अराम करने की सलाल दी है। इसके साथ ही उन्होंने लिखा है कि, ‘मैं यह खत विनती करते हुए लिख रहा हूं कि मैं अपने स्वास्थ्य और अपने लिए वक्त चाहता हूं। इसलिए मैं किसी भी तरह की जिम्मेदारी वर्तमान और नई सरकार में नहीं संभाल सकता हूं।’

इसके साथ ही अरुण जेटली ने चिट्ठी में लिखा है कि, ‘यह मेरे लिए सम्मान की बात रही कि मैं पिछले पांच साल उस सरकार का हिस्सा रहा जिसका नेतृत्व आप (मोदी) कर रहे थे। इससे पहले भी पार्टी ने मुझे कई जिम्मेदारियां दी थीं। जब हम सरकार में थे तब और जब विपक्ष में थे तब भी। मैं इससे ज्यादा की मांग नहीं कर सकता।’

नई दिल्ली। नरेन्द्र मोदी 30 मई को दोबारा पीएम पद की शपथ लेने जा रहे हैं। मोदी सरकार के मंत्रियों की लिस्ट भी तैयार हो चुकी है। इस बीच अरुण जेटली ने पीएम मोदी को एक चिट्ठी लिखी है, जिसमें उन्होंने अपने खराब स्वास्थ्य का हवाल देते हुए कहा कि उन्हें नई सरकार में कोई पद ना दें। जेटली पिछले 18 महीनों से बीमार चल रहे हैं। हाल में ही उनकी एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी, जिसमें देखकर उनके गिरते हुए स्वास्थ्य का अंदाजा लगाया जा सकता है। https://twitter.com/arunjaitley/status/1133640001088974848 अरुण जेटली ने पीएम मोदी को लिखे पत्र में कहा है कि उन्हें दूसरे कार्यकाल में मंत्री नहीं बनाया जाये। इसके लिए उन्होंने अपने खराब स्वाथ्स्य का जिक्र किया है। उन्होंने लिखा है कि डॉक्टरों ने उन्हें अभी अराम करने की सलाल दी है। इसके साथ ही उन्होंने लिखा है कि, 'मैं यह खत विनती करते हुए लिख रहा हूं कि मैं अपने स्वास्थ्य और अपने लिए वक्त चाहता हूं। इसलिए मैं किसी भी तरह की जिम्मेदारी वर्तमान और नई सरकार में नहीं संभाल सकता हूं।' इसके साथ ही अरुण जेटली ने चिट्ठी में लिखा है कि, 'यह मेरे लिए सम्मान की बात रही कि मैं पिछले पांच साल उस सरकार का हिस्सा रहा जिसका नेतृत्व आप (मोदी) कर रहे थे। इससे पहले भी पार्टी ने मुझे कई जिम्मेदारियां दी थीं। जब हम सरकार में थे तब और जब विपक्ष में थे तब भी। मैं इससे ज्यादा की मांग नहीं कर सकता।'