1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Arun Kumar Yadav Jeevan Parichay: पिता के पदचिन्हों पर चलते हुए दूसरी बार क्षेत्र से विधायक बने हैं अरुण कुमार यादव

Arun Kumar Yadav Jeevan Parichay: पिता के पदचिन्हों पर चलते हुए दूसरी बार क्षेत्र से विधायक बने हैं अरुण कुमार यादव

आज हम आपको बताएंगे आजमगढ़ जिले के निर्वाचन क्षेत्र 349, फूलपुर-पवई विधानसभा क्षेत्र के विधायक अरुण कुमार यादव के बारे में। ये विधानसभा क्षेत्र उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल के आजमगढ़ जिले में आता है।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

Arun Kumar Yadav Jeevan Parichay: आज हम आपको बताएंगे आजमगढ़(Azamgarh) जिले के निर्वाचन क्षेत्र 349, फूलपुर-पवई विधानसभा क्षेत्र के विधायक अरुण कुमार यादव के बारे में। ये विधानसभा क्षेत्र उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल के आजमगढ़ जिले में आता है। यहां भाजपा(BJP) से विधायक हैं अरुण कुमार यादव जो इस विधानसभा से जीत दर्ज कर के दूसरी बार विधानभवन पहुंचे हैं। अरुण कुमार यादव(yadav) का जन्म 14 नवम्बर, 1980 को रमाकान्त यादव (पूर्व सांसद) के घर में हुआ। अरुण कुमार यादव का जन्म स्थान आजमगढ़ है। अरुण कुमार यादव हिन्दू धर्म के पिछड़ी जाति (यादव) जाति(cast) से आते हैं। अरुण कुमार यादव विधायक ने स्नातकोत्तर तक की पढ़ाई की है।

पढ़ें :- Neelima Katiyar jeevan parichay : नीलिमा कटियार पहली बार बनीं विधायक फिर योगी मंत्रिमंडल में पक्की की कुर्सी
Jai Ho India App Panchang

पिता का नाम-         रमाकान्त यादव (पूर्व सांसद)
जन्‍म तिथि-              14 नवम्बर, 1980
जन्‍म स्थान-             आजमगढ़
धर्म-                        हिन्दू
जाति-                      पिछड़ी जाति (यादव)
शिक्षा-                     स्नातक
पत्‍नी का नाम-          निशा यादव
सन्तान-                   तीन पुत्रियाँ
व्‍यवसाय-               कृषि
मुख्यावास –              ग्राम-चकगंज अलीशाह, पोस्ट-नौहरा, तहसील-फूलपुर, जिला-आजमगढ़

राजनीतिक योगदान
2007-2012 पन्‍द्रहवीं विधानसभा के सदस्य प्रथम बार निर्वाचित
मार्च, 2017 सत्रहवीं विधानसभा के सदस्य दूसरी बार निर्वाचित

मूल रूप से अलीगढ़ के चकगंज में जन्में अरुण यादव की पारिवारिक पृष्ठभूमि राजनीतिक होने के चलते उनका रुझान भी राजनीतिक क्षेत्र में ही रहा है। वर्तमान में वह आज़मगढ़ की फूलपुर पवई विधानसभा सीट पर विधायक का पदभार संभाल रहे हैं। बहुजन समाज पार्टी से दिग्गज नेता अबुल कैस आजमी व भारतीय जनता पार्टी से पूर्व सांसद के पुत्र अरुण यादव दोनों के बीच हुए इस राजनीतिक संघर्ष में आखिरकार जीत का ताज अरुण यादव के सिर पर लगा। अरुण यादव आमजन के मध्य काफी लोकप्रिय नेता हैं, जिसके पीछे उनके पिता का राजनीतिक लगाव होना रहा है। उनके पिता श्री रमाकांत यादव आजमगढ़ की फूलपुर विधानसभा सीट से 4 बार विधायक पद पर कार्यभार संभाल चुके हैं। इसके साथ ही वह आजमगढ़ संसदीय सीट से चार बार सांसद भी रह चुके हैं। वर्तमान में अपने पिता के पदचिन्हों पर चलते हुए अरुण यादव भी भारतीय जनता पार्टी से विधायक हैं।

 

पढ़ें :- Sangeet Singh Som jeevan parichay : बीजेपी विधायक संगीत सिंह सोम का भड़काऊ और विवादित बयानों से है गहरा नाता

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...