गाजियाबाद के मोहननगर इलाके से मिली केजरीवाल की गायब कार

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की लकी मानी जाने वाली नीली कार गाजियाबाद के मोहननगर इलाके से बरामद कर ली गई है। पुलिस को कार के अंदर से एक तलवार भी मिली है। गुरुवार को केजरीवाल की कार चोरी की खबर ने दो राज्‍यों की पुलिस का चैन छीन लिया था। दिल्‍ली पुलिस और यूपी पुलिस की टीमें कार खोजने में जुट गई।

बता दें, सीएम केजरीवाल की बहुचर्चित कार को चोर ने गुरुवार दोपहर सचिवालय के बाहर से पार कर दिया था, जैसे ही यह खबर मार्केट में आई प्रशासन के हाथ पांव फूल गए। सोशल मीडिया पर भी तरह तरह की बातें की जाने लगी। हैरानी लोग इस बात पर जता रहे थे कि चोर दिनदहाड़े मुख्यमंत्री दफ्तर के बाहर से ही कार ले उड़ा और सुरक्षा के सारे इंतजाम धरे रह गए।

यह नीली वेगनआर कार काफी खास है। अरविंद केजरीवाल इसी कार पर सवार होकर पहली बार शपथ लेने के लिए रामलीला मैदान गए थे। केजरीवाल की कार की तलाश में पुलिस ने दिल्ली एनसीआर तक में गहन चेकिंग अभियान चला रखा था। हर वैगन आर कार की जांच हो रही थी। हालांकि पुलिस को पहले शक था कि कार मेरठ पहुंच गई है, मेरठ के बाजार में बड़ी तादाद में एनसीआर से चोरी होने वाली गाड़ियों के पुर्जे अलग किए जाते हैं।

आपको बता दें कि आम आदमी पार्टी की कार्यकर्ता वंदना सिंह इस कार को लेकर सचिवालय किसी काम से आई थीं। आमतौर पर कार की एंट्री सचिवालय के अंदर हो जाती थी और कार अंदर ही पार्क होती थी, लेकिन वंदना के मुताबिक गुरुवार को किसी वजह से कार का पास नहीं बन पाया, इसीलिए उसे उन्होंने गेट नंबर 6 और 8 के बीच सड़क किनारे ही पार्क कर दिया गया था।

{ यह भी पढ़ें:- दिल्ली के साथ-साथ चार और राज्यों में ऑड-ईवन को लेकर आज NGT में सुनवाई }

Loading...