1. हिन्दी समाचार
  2. अरविंद केजरीवाल का दावा- दिल्ली में तेजी से बढ़ेगा कोरोना संक्रमण

अरविंद केजरीवाल का दावा- दिल्ली में तेजी से बढ़ेगा कोरोना संक्रमण

Arvind Kejriwal Claims Corona Infection Will Increase Rapidly In Delhi

नई दिल्ली। भारत में तेजी से कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ता चला जा रहा है वहीं सबसे ज्यादा असर महाराष्र्ट व दिल्ली में देखने को मिल रहा है. दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच आज एक बार फिर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मीडिया से बात की. अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कल मेरा कोरोना वायरस का टेस्ट हुआ और रिपोर्ट नेगेटिव आई है. मैं पिछले दो दिन से कमरे में बंद था. दिल्ली में आज 31 हजार कोरोना के केस हैं, जिनमें से 12 हजार लोग ठीक हो चुके हैं. केजरीवाल ने माना कि दिल्ली में बहुत तेजी से कोरोना फैलने वाला है.

पढ़ें :- तमिलनाडु चुनाव से पहले ही शशिकला ने राजनीति से लिया सन्यास, कहा- सत्ता की लालसा नहीं

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 18 हजार लोगों का इलाज जारी है, इनमें 15 हजार लोग अपने घरों में हैं. सीएम ने कहा कि आने वाले समय में दिल्ली में कोरोना बहुत तेजी से फैलने वाला है, 15 जून को 44 हजार केस हो जाएंगे. मुख्यमंत्री ने कहा कि 31 जुलाई तक हमें 80 हजार बेड की जरूरत पड़ेगी.

कोरोना को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस लड़ाई को अब जन आंदोलन बनाना होगा, मास्क पहनना होगा, हाथ धोने होंगे और सोशल डिस्टेंसिंग करनी होगी. खुद भी ये पालन करना है और दूसरे से भी करवाना है. हमारी सरकार ने फैसला लिया था कि दिल्ली में सिर्फ दिल्ली के ही लोगों का इलाज होगा. लेकिन अब उपराज्यपाल और केंद्र सरकार के फैसले को लागू किया जाएगा, इसपर कोई लड़ाई नहीं की जाएगी.

‘..मैं खुद सड़कों पर उतरूंगा’

मुख्यमंत्री ने कहा कि जितने बेड हमें दिल्ली वालों के लिए चाहिए, उतने ही हमें बाहर से आने वालों के लिए चाहिए. यानी अगर दिल्ली में 33 हजार बेड की जरूरत होगी, तो बाहर से आने वालों के लिए मिलाकर कुल 65 हजार बेड की जरूरत होगी. कल-परसों से मैं जमीन पर उतरूंगा, स्टेडियम-बैंकट हॉल को इसके लिए तैयार करेंगे.

पढ़ें :- हाथरस गोलीकांड: सीएम योगी ने सपा पर साधा निशाना, कहा- हर अपराधी के साथ समाजवादी शब्द क्यों

मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं पड़ोसी राज्यों से अपील करता हूं कि वो भी अपने यहां सुविधाएं बढ़ाएं. मीडिया रोज हमें कमियां बता रहा है और ऐप में भी कमी बताई गई, लेकिन हम लगातार इन्हें दूर कर रहे हैं. दिल्ली में एक हफ्ते में 1900 लोगों को अस्पताल में बेड मिला, अभी भी 4200 बेड खाली हैं. करीब दो सौ लोगों को काफी मुश्किलें भी उठानी पड़ीं.

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ये समय राजनीति करने का नहीं है, आपस में लड़ने का नहीं है. अगर हम लड़ते रहे तो कोरोना जीत जाएगा, आम आदमी क्या सोच रहा होगा कि ये आपस में ही लड़ रहे हैं और लोगों की चिंता नहीं है.

दिल्ली में लगातार कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं और कुल केस की संख्या 31 हजार के पार चली गई है. दूसरी ओर अब दिल्ली में बेड और अस्पताल में व्यवस्था को लेकर संकट खड़ा हो गया है. ऐसे में अरविंद केजरीवाल क्या कुछ कहते हैं, इसपर नजर होगी.

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...