मैं वोट मांगने नहीं, देश को गरीबी से बचाने की भीख मांगने आया हूं : केजरीवाल

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ में नोटबंदी का विरोध करने पहुंचे आम आदमी पार्टी(आप) के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राफे आम मैदान में रैली को संबोधित किया। केजरीवाला ने रैली को संबोधित करते हुए कहा, “मैं यूपी वोट मांगने नहीं बल्कि देश बचाने की भीख मांगने आया हूं।” केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के फैसले पर तीखे वार किए, उन्होने कहा कि नोटबंदी के फैसले के बाद देश गरीब हो गया और अमीरों का कालाधन और बढ़ गया।




केजरीवाल ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि मेरे पास कुछ ऐसे कागज हैं, जिन्हे मीडिया नहीं दिखाएगा। आप लोग इन कागजों को घर-घर पहुंचाये।
पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए केजरीवाल ने कहा कि मोदी कह रहे हैं कि हम कालाधन ख़त्म करना चाहते हैं। देश जानता है कि हमने कालेधन के खिलाफ अनशन किया। नोटबन्दी की आड़ में मोदी अपने अमीर दोस्तों को फायदा पहुंचा रहे हैं।




देश लूट रहे मोदी, करते रहेंगे विरोध—

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमने नरेंद्र मोदी के अच्छे कामों का अभिवादन किया था लेकिन कालाधन और भ्रष्‍टाचार के नाम पर मोदी देश को लूटेंगे तो हम सबसे पहले विरोध करेंगे। मैं इंकमटैक्स में रहा हूं। जब 2 हजार के नोट की बात हुई तब ही मैं जान गया ये गलत है। अगर इन्हें भ्रष्‍टाचार कम करना था तो जेल में डालना था। मोदी के पास एक फ़ाइल है, जिसमें स्विस बैंक में खाता धारकों के नाम हैं। इन नामों में कई अरबपति शामिल हैं, इन लोगों के नाम का खुलासा करके इन्हे जेल में डाला जाये, तभी भृष्टाचार पर रोक लग सकेगी।