आम आदमी पार्टी का बड़ा दावा, भाजपा प्रत्याशी हंसराज हंस हैं मुस्लिम

c

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को एक चौकाने वाला दावा किया है। लोकसभा चुनाव में भाजपा के उत्तर-पश्चिमी दिल्ली उम्मीदवार हंसराज हंस इस आरक्षित सीट से चुनाव लडऩे के लिए अयोग्य हैं उन्होंने मतदाताओं से उन पर अपना मत बर्बाद नहीं करने की अपील की।

Arvind Kejriwal Says Hans Raj Hans Ineligible To Contest From North West Delhi :

अरविंद केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी के एक वरिष्ठ नेता राजेन्द्र पाल गौतम ने ट्वीट को टैग किया कि हंस ने जानबूझकर यह बात छिपाई कि उन्होंने हाल ही में इस्लाम कबूल किया था और वह अनुसूचित जाति एससी के लिये आरक्षित सीट उत्तर पश्चिम दिल्लीी से चुनाव लडऩे के योग्य नहीं हैं।

केजरीवाल ने ट्वीट किया हंस राज हंस आरक्षित सीट से चुनाव लडऩे के योग्य नहीं हैं। अंत में उन्हें अयोग्य घोषित कर दिया जाएगा। उन्होंने उत्तर पश्चिम दिल्ली के मतदाताओं से कहा कि वह उनपर अपना मत खराब न करें।

राजेन्द्र पाल गौतम ने कहा चुनाव आयोग की दिशा निर्देशों के मुताबिक नॉर्थ वेस्ट दिल्ली एक आरक्षित सीट है लेकिन बीजेपी उम्मीदवार हंसराज हस आरक्षित श्रेणी से नहीं आते हैं। उन्होंने 2014 में इस्लाम अपना लिया था। उन्होंने चुनाव आयोग से जानबूझकर यह जानकारी छिपाई है। यह चुनाव आयोग के नियमों का पूरी तरह से उल्लंघन है।

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को एक चौकाने वाला दावा किया है। लोकसभा चुनाव में भाजपा के उत्तर-पश्चिमी दिल्ली उम्मीदवार हंसराज हंस इस आरक्षित सीट से चुनाव लडऩे के लिए अयोग्य हैं उन्होंने मतदाताओं से उन पर अपना मत बर्बाद नहीं करने की अपील की। अरविंद केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी के एक वरिष्ठ नेता राजेन्द्र पाल गौतम ने ट्वीट को टैग किया कि हंस ने जानबूझकर यह बात छिपाई कि उन्होंने हाल ही में इस्लाम कबूल किया था और वह अनुसूचित जाति एससी के लिये आरक्षित सीट उत्तर पश्चिम दिल्लीी से चुनाव लडऩे के योग्य नहीं हैं। केजरीवाल ने ट्वीट किया हंस राज हंस आरक्षित सीट से चुनाव लडऩे के योग्य नहीं हैं। अंत में उन्हें अयोग्य घोषित कर दिया जाएगा। उन्होंने उत्तर पश्चिम दिल्ली के मतदाताओं से कहा कि वह उनपर अपना मत खराब न करें। राजेन्द्र पाल गौतम ने कहा चुनाव आयोग की दिशा निर्देशों के मुताबिक नॉर्थ वेस्ट दिल्ली एक आरक्षित सीट है लेकिन बीजेपी उम्मीदवार हंसराज हस आरक्षित श्रेणी से नहीं आते हैं। उन्होंने 2014 में इस्लाम अपना लिया था। उन्होंने चुनाव आयोग से जानबूझकर यह जानकारी छिपाई है। यह चुनाव आयोग के नियमों का पूरी तरह से उल्लंघन है।