1. हिन्दी समाचार
  2. तकनीक
  3. अपनी सीएसआर पहल के हिस्से के रूप में, सैमसंग शुरु कर रही है सरकारी अस्पतालों में स्मार्ट हेल्थकेयर सेंटर्स,

अपनी सीएसआर पहल के हिस्से के रूप में, सैमसंग शुरु कर रही है सरकारी अस्पतालों में स्मार्ट हेल्थकेयर सेंटर्स,

सैमसंग ने अपनी सीएसआर पहल के हिस्से के रूप में सरकारी अस्पतालों में शुरू किए स्मार्ट हेल्थकेयर सेंटर्स, डिजिटल एक्सल–रे मशीन से तेजी से हो सकेगा कोविड-19 की पहचान, नए अस्पताल जहां सैमसंग स्मार्ट हेल्थकेयर सेंटर स्थित हैं उनमें मुंबई, नई दिल्ली, लखनऊ, बेंगलुरू, भोपाल, अहमदाबाद, इंदौर, केलांग, अकोला, जामनगर, शिमला और पालक्काड आदि शहर मौजूद हैं

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

सैमसंग इंडिया ने अपनी नागरिकता पहल के हिस्से के रूप में पूरे देश भर के सरकारी अस्पतालों में नए सैमसंग स्मार्ट हेल्थकेयर सेंटर्स की शुरुआत की है जो कोविड योद्धाओं को तेजी से कोविड-19 का निदान करने में मदद कर रहे हैं अपनी नागरिकता पहल के हिस्से के रूप में, सैमसंग ने कोविड-19 की मौजूदा लहर के खिलाफ भारत की लड़ाई में अपने योगदान के रूप में 50 लाख डॉलर , केंद्र व राज्य सरकारों को दान देने, और अस्पतालों के लिए आवश्यक चिकित्सा उपकरणों के साथ स्वास्थ्य  सेवा क्षेत्र को मजबूत करने की प्रतिबद्धता जताई है। इसके तहत, सैमसंग ने केंद्र के साथ ही साथ उत्तर प्रदेश और तमिलनाडु को 30 लाख डॉलर का दान दिया है और उत्तर प्रदेश एवं तमिलनाडु को 20 लाख डॉलर मूल्य की चिकित्सा सामग्री उपलब्ध करवा रही है, जिसमें 100 ऑक्सीजन कन्संशट्रेटर्स, 3000 ऑक्सीजन सिलेंडर्स और दस लाख एलडीएस सिरिंज शामिल हैं।

पढ़ें :- Samsung ने लॉन्च किया किफायती स्मार्टफोन, जाने क्या है फीचर्स  

नए अस्पताल जहां सैमसंग स्मार्ट हेल्थकेयर सेंटर स्थित हैं उनमें मुंबई, नई दिल्ली, लखनऊ, बेंगलुरू, भोपाल, अहमदाबाद, इंदौर, केलांग, अकोला, जामनगर, शिमला और पालक्काड आदि शहर मौजूद हैं सैमसंग स्मार्ट हेल्थकेयर सेंटर्स सैमसंग द्वारा निर्मित आधुनिक डिजिटल एक्स -रे और डिजिटल अल्ट्रा साउंड मशीन से सुसज्जित हैं। सैमसंग की इनोवेटिव डिजिटल एक्स-रे मशीनों का उपयोग इन सरकारी अस्पतालों में कोविड-19 का तेजी से पता लगाने के लिए किया जा रहा है। अस्पतालों से प्राप्त प्रतिक्रिया बताती है कि ये डिजिटल एक्से-रे मशीनें, जो पोर्टेबल हैं, मरीजों के इन-रूम डायग्नो्सिस के लिए उपयोग की जा रही हैं। समाज के आर्थिक और सामाजिक रूप से पिछड़े मरीज सैमसंग स्मार्ट हेल्थकेयर प्रोग्राम से लाभांवित हो रहे हैं। डॉक्टर्स, टेक्नीसियंस और रेडियोलॉजिस्टल को भी अत्याधुनिक डायग्नोस्टिक इक्विपमेंट और सॉफ्टवेयर को चलाने के लिए प्रशिक्षण दिया गया है।

सैमसंग के द्वारा उठाया गया यह कदम सभी के लिए बहुत उपयोगी सिद्ध हो रहा है। सैमसंग इंडिया ने कहा, “सैमसंग स्मार्ट हेल्थकेयर प्रोग्राम सीमित पहुंच वाले समुदायों को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवा का लाभ पहुंचाने के सरकार के प्रयासों का समर्थन करता है। इन नए सेंटर्स के साथ, पूरे भारत में अब हमारे हेल्थ‍केयर उपकरण 142 सरकारी अस्पतालों में मौजूद हैं। हम कोविड योद्धाओं को सलाम करते हैं, जो लोगों की मदद के लिए पिछले एक साल से बिना थके कठोर मेहनत कर रहे हैं। हमारी डिजिटल एक्स-रे मशीनें इस मुश्किल समय में तेजी से कोविड-19 की पहचान करने में उनकी मदद कर रही हैं  डिजिटल एक्स-रे मशीनों ने सरकारी अस्पतालों की दक्षता में सुधार करने और नैदानिक क्षमताओं को बढ़ाने में भी मदद की है, क्योंकि इन मशीनों से प्राप्त  परिणामों को डॉक्टर्स द्वारा सीधे कम्यूटर मॉनिटर पर देखा जा सकता है, इसके लिए भौतिक एक्स-रे फि‍ल्म की आवश्यकता नहीं होती है। डॉक्ट‍र्स को उपलब्ध होने वाले परिणाम बहुत उच्च गुणवत्ता के होते हैं, जिससे उन्हें  त्वरित और बेहतर निदान प्राप्त करने में मदद मिलती है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...