असदुद्दीन ओवैसी ने पीएम से पूछा, आपकी पार्टी में कितने मुस्लिम सांसद हैं?

owaisi
असदुद्दीन ओवैसी ने पीएम से पूछा, आपकी पार्टी में कितने मुस्लिम सांसद हैं?

नई दिल्ली। AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने पीएम मोदी के अल्पसंख्यक वाले बयान पर ​तीखी प्रतिक्रिया दी है। ओवैसी ने पीएम से पूछा कि, उनकी पार्टी के 300 सांसदों में कितने मुस्लिम सांसद है, जो लो लोकसभा से चुने गये हैं। इसके साथ ही ओवेसी ने कहा कि ‘अगर पीएम मोदी इस बात से सहमत हैं कि अल्पसंख्यक भय में रहते हैं, तो उन्हें पता होना चाहिए कि अखलाक की हत्या करने वाले लोग उनकी चुनावी जनसभा में सामने बैठे थे।’

Asaduddin Owaisi Asked The Pm How Many Muslim Mps Are There In Your Party :

ओवैसी ने कहा कि, अगर प्रधानमंत्री को यह लगता है कि मुस्लि लोग डर में रहते हैं, तो उनके लिये क्या करेंगे? वह उन गिरोहों को रोकेंगे, जो गाय के नाम पर मुस्लिमों की हत्या कर रहे हैं। इसके साथ ही ओवैसी ने कहा कि पीएम मोदी की पार्टी में कितने मुस्लिम सांसद हैं, जो लोकसभा में चुने गए हैं। पीएम पर हमला करते हुए ओवैसी ने कहा कि पीएम का बयान विरोधाभासी है। पिछले पांच सालों से पीएम और उनकी पार्टी कर रही है।

वहीं पीएम मोदी के बयान को मुस्लिम धर्मगुरू यासूब अब्बास ने स्वगात किया है। उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि वह मुस्लिम समुदाय के डर को दूर करने में सफल होंगे। अब तक पार्टियों ने मुसलमानों को अपने वोट बैंक के रूप में इस्तेमाल किया है। मैं इस पक्ष में हूं कि मुसलमानों को उनका उचित अधिकार मिलना चाहिए।

गौरतलब है कि शनिवार को संसद के सेंट्रल हॉल में पीएम मोदी ने कहा था कि गरीबों के साथ जैसा छल हुआ, वैसा ही छल देश की माइनॉरिटी के साथ हुआ है। दुर्भाग्य से देश की माइनॉरिटी को उस छलावे में ऐसा भ्रमित और भयभीत रख गया है। उससे अच्छा होता कि माइनॉरिटी की शिक्षा, स्वास्थ्य की चिंता की जाती। 2019 में आपसे अपेक्षा करने आया हूं कि हमें इस छल को भी छेदना है। हमें विश्वास जीतना है।

नई दिल्ली। AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने पीएम मोदी के अल्पसंख्यक वाले बयान पर ​तीखी प्रतिक्रिया दी है। ओवैसी ने पीएम से पूछा कि, उनकी पार्टी के 300 सांसदों में कितने मुस्लिम सांसद है, जो लो लोकसभा से चुने गये हैं। इसके साथ ही ओवेसी ने कहा कि 'अगर पीएम मोदी इस बात से सहमत हैं कि अल्पसंख्यक भय में रहते हैं, तो उन्हें पता होना चाहिए कि अखलाक की हत्या करने वाले लोग उनकी चुनावी जनसभा में सामने बैठे थे।' ओवैसी ने कहा कि, अगर प्रधानमंत्री को यह लगता है कि मुस्लि लोग डर में रहते हैं, तो उनके लिये क्या करेंगे? वह उन गिरोहों को रोकेंगे, जो गाय के नाम पर मुस्लिमों की हत्या कर रहे हैं। इसके साथ ही ओवैसी ने कहा कि पीएम मोदी की पार्टी में कितने मुस्लिम सांसद हैं, जो लोकसभा में चुने गए हैं। पीएम पर हमला करते हुए ओवैसी ने कहा कि पीएम का बयान विरोधाभासी है। पिछले पांच सालों से पीएम और उनकी पार्टी कर रही है। वहीं पीएम मोदी के बयान को मुस्लिम धर्मगुरू यासूब अब्बास ने स्वगात किया है। उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि वह मुस्लिम समुदाय के डर को दूर करने में सफल होंगे। अब तक पार्टियों ने मुसलमानों को अपने वोट बैंक के रूप में इस्तेमाल किया है। मैं इस पक्ष में हूं कि मुसलमानों को उनका उचित अधिकार मिलना चाहिए। गौरतलब है कि शनिवार को संसद के सेंट्रल हॉल में पीएम मोदी ने कहा था कि गरीबों के साथ जैसा छल हुआ, वैसा ही छल देश की माइनॉरिटी के साथ हुआ है। दुर्भाग्य से देश की माइनॉरिटी को उस छलावे में ऐसा भ्रमित और भयभीत रख गया है। उससे अच्छा होता कि माइनॉरिटी की शिक्षा, स्वास्थ्य की चिंता की जाती। 2019 में आपसे अपेक्षा करने आया हूं कि हमें इस छल को भी छेदना है। हमें विश्वास जीतना है।