अमित शाह की हिंदी को राष्ट्रीय भाषा बनाने की अपील का असदुद्दीन ओवैसी ने किया विरोध

Asaduddin Owaisi opposes Amit Shah's appeal
अमित शाह की हिंदी को राष्ट्रीय भाषा बनाने की अपील का असदुद्दीन ओवैसी ने किया विरोध

नई दिल्ली। हिन्दी दिवस के मौके पर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने हिंदी को राष्ट्रीय भाषा बनाने की अपील की है लेकिन उनके अपील करने के बाद ही इस पर राजनी​ति शुरू हो गयी। एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने अमित शाह के बयान का विरोध करते हुए कहा कि भारत हिंदी, हिंदू और हिंदुत्व से कहीं ज्यादा बड़ा है। ओवैसी का कहना है कि भारतीयों की मातृभाषा हिन्दी नही है। ओवैसी का यह भी कहना है कि अनुच्छेद 29 सभी भारतीयों को भाषा, लिपि और संस्कृति का अधिकार प्रदान करता है।

Asaduddin Owaisi Opposes Amit Shahs Appeal To Make A National Language :

अमित शाह ने हिन्दी दिवस के मौके पर देश वासियों से ट्वीट करके भी अपील की कि ‘आज हिंदी दिवस के अवसर पर मैं देश के सभी नागरिकों से अपील करता हूं कि हम अपनी अपनी मातृभाषा के प्रयोग को बढाएं और साथ में हिंदी भाषा का भी प्रयोग कर देश की एक भाषा के पूज्य बापू और लौह पुरूष सरदार पटेल के स्वप्न को साकार करने में योगदान दें। उन्होंने कहा पूरे विश्व में भारत की अगर एक अलग पहचान बनानी है तो पूरे देश की एक भाषा होना अत्यंत आवश्यक है।

नई दिल्ली। हिन्दी दिवस के मौके पर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने हिंदी को राष्ट्रीय भाषा बनाने की अपील की है लेकिन उनके अपील करने के बाद ही इस पर राजनी​ति शुरू हो गयी। एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने अमित शाह के बयान का विरोध करते हुए कहा कि भारत हिंदी, हिंदू और हिंदुत्व से कहीं ज्यादा बड़ा है। ओवैसी का कहना है कि भारतीयों की मातृभाषा हिन्दी नही है। ओवैसी का यह भी कहना है कि अनुच्छेद 29 सभी भारतीयों को भाषा, लिपि और संस्कृति का अधिकार प्रदान करता है। अमित शाह ने हिन्दी दिवस के मौके पर देश वासियों से ट्वीट करके भी अपील की कि 'आज हिंदी दिवस के अवसर पर मैं देश के सभी नागरिकों से अपील करता हूं कि हम अपनी अपनी मातृभाषा के प्रयोग को बढाएं और साथ में हिंदी भाषा का भी प्रयोग कर देश की एक भाषा के पूज्य बापू और लौह पुरूष सरदार पटेल के स्वप्न को साकार करने में योगदान दें। उन्होंने कहा पूरे विश्व में भारत की अगर एक अलग पहचान बनानी है तो पूरे देश की एक भाषा होना अत्यंत आवश्यक है।