1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. Ashadh ki maasik shivaraatri 2022 : आषाढ़ मासिक शिवरात्रि पर पूरे दिन सर्वार्थ सिद्धि योग बना हुआ है, करें भागवान भोले नाथ की पूजा अर्चना

Ashadh ki maasik shivaraatri 2022 : आषाढ़ मासिक शिवरात्रि पर पूरे दिन सर्वार्थ सिद्धि योग बना हुआ है, करें भागवान भोले नाथ की पूजा अर्चना

आषाढ़ का महीना शुरू हो चुका है। इस महीने में कई महत्वपूर्ण व्रत और त्योहार आते हैं।  भागवान भोले नाथ की पूजा अर्चना के लिए मासिक शि्वरात्रि व्रत रखा जाता है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

Ashadh ki maasik shivaraatri 2022 : आषाढ़ का महीना शुरू हो चुका है। इस महीने में कई महत्वपूर्ण व्रत और त्योहार आते हैं।  भागवान भोले नाथ की पूजा अर्चना के लिए मासिक शि्वरात्रि व्रत रखा जाता है। यह व्रत कृष्ण पक्ष के दौरान चतुर्दशी तिथि के दिन रखा जाता है। आषाढ़ माह की मासिक शिवरात्रि कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मनाई जाएगी। आज से आषाढ़ माह के कृष्ण पक्ष का प्रारंभ हुआ है। आज प्रतिपदा ति​थि है।

पढ़ें :- 28 June 2022 Ka Panchang : आज आषाढ़ कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि है, करें हनुमान जी महाराज की पूजा

मासिक शिवरात्रि 2022 तिथि
पंचांग के अनुसार, आषाढ़ माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि का प्रारंभ 27 जून दिन सोमवार को तड़के 03 बजकर 25 मिनट पर हो रहा है। यह तिथि अलगे दिन 28 जून ​मंगलवार को सुबह 05 बजकर 52 मिनट पर समाप्त हो रही है। ऐसे में उदयातिथि और रा​त्रि प्रहर में शिवरात्रि पूजा का समय देखा जाए, तो मासिक शिवरात्रि 27 जून सोमवार को मनाई जाएगी।

इस भागवान भोलेनाथ की कृपा पाने के लिए उनकों प्रिय वस्तुएं उनकों अर्पित करनी चहिए। भागवान भोलेनाथ के प्रतीक, शिवलिंग पर गंगा जल, दूध, घी, शहद, दही, सिंदूर, चीनी, गुलाब जल आदि चढ़ाकर अभिषेक करना चाहिए। अभिषेक करते समय शिव मंत्र का जाप करें। चंदन लगाएं और धतूरा, बेल पत्र और धूप जलाएं। दीपक जलाएं और नैवेद्य अर्पित करें। इसके बाद शिव चालीसा, शिव पुराण और शिव मंत्र का जाप रुद्राक्ष की माला से करें। शिव आरती करें और भगवान से गलती की क्षमा याचना करें।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...