अश्विन का इंदौर में बड़ा कारनामा, अनिल कुंबले का रिकॉर्ड तोड़ बने ‘नंबर 1’

ashwani
अश्विन का इंदौर में बड़ा कारनामा, अनिल कुंबले का रिकॉर्ड तोड़ बने 'नंबर 1'

नई दिल्ली। बांग्लादेश के खिलाफ पहले टेस्ट में भारत के स्टार ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने इंदौर के होलकर स्टेडियम में एक और बड़ी उपलब्धि हासिल कर ली है। आर अश्विन ने बांग्लादेश के कप्तान मोमिनुल हक को बोल्ड कर घरेलू सरजमीं पर अपने 250 विकेट पूरे कर लिये। इसके साथ ही अश्विन घर पर सबसे तेजी से 250 विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज बन गए।

Ashwins Great Feat In Indore Anil Kumbles Record Broke No 1 :

दिग्गजों की लिस्ट में अश्विन ‘नंबर 1’

घरेलू सरजमीं पर 250 विकेट पूरे करने वाले अश्विन (R Ashwin) भारत के तीसरे गेंदबाज हैं। उनसे पहले हरभजन सिंह और कुंबले ने ये कारनामा किया है। कुंबले ने हिंदुस्तान में कुल 350 टेस्ट विकेट लिए हैं, जबकि हरभजन का ये आंकड़ा 265 है। वैसे आपको बता दें अपना 250वां घरेलू टेस्ट विकेट पूरा करने के लिए अश्विन को काफी जद्दोजहद करनी पड़ी। दरअसल इंदौर टेस्ट में वो दो बार विकेट लेने से चूक गए।

अश्विन (R Ashwin) की गेंद पर अजिंक्य रहाणे ने मोमिनुल हक और मुश्फिकुर रहीम का कैच टपकाया था हालांकि इसके बाद अश्विन ने बोल्ड कर इस कारनामे को अंजाम दे दिया। वैसे आपको बता दें अश्विन ने बांग्लादेश के खिलाफ ही अपना 250वां टेस्ट विकेट लिया था और अब घरेलू सरजमीं पर 250वां विकेट भी उन्होंने इसी टीम के खिलाफ ही पूरा किया है। घर पर 250 विकेट पूरे करने के बाद आर अश्विन ने बांग्लादेश को कुछ ही देर बार बहुत बड़ा झटका दिया।

अश्विन (R Ashwin) ने महमदुल्लाह को 10 रनों पर बोल्ड कर भारत को पांचवीं और अपनी दूसरी सफलता हासिल की। इंदौर में टीम इंडिया ने गेंदबाजी तो अच्छी की है लेकिन उसकी फील्डिंग बेहद लचर रही है। विराट कोहली ने एक और उपकप्तान रहाणे ने 3 कैच टपकाए।

वहीं, भारतीय टेस्ट टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने साफ कर दिया है कि वे बांग्लादेश को हल्के में लेने की भूल कतई नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि साउथ अफ्रीका पर 3-0 की टेस्ट सीरीज जीत अब बीती बात हो चुकी है। हम एक बार में सिर्फ एक ही मैच पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। हम बांग्लादेश की टीम का सम्मान करते हैं और उनके खिलाफ हम पूरी मजबूती से खेलेंगे। दोनों टीमों के बीच सीरीज का पहला टेस्ट गुरुवार 14 नवंबर से इंदौर के होल्कर स्टेडियम में होगा, जबकि दूसरा टेस्ट 22 नवंबर से कोलकाता में खेला जाएगा। ये टेस्ट डे-नाइट होगा और गुलाबी गेंद से खेला जाएगा। 

 
 
 

नई दिल्ली। बांग्लादेश के खिलाफ पहले टेस्ट में भारत के स्टार ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने इंदौर के होलकर स्टेडियम में एक और बड़ी उपलब्धि हासिल कर ली है। आर अश्विन ने बांग्लादेश के कप्तान मोमिनुल हक को बोल्ड कर घरेलू सरजमीं पर अपने 250 विकेट पूरे कर लिये। इसके साथ ही अश्विन घर पर सबसे तेजी से 250 विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज बन गए। दिग्गजों की लिस्ट में अश्विन 'नंबर 1' घरेलू सरजमीं पर 250 विकेट पूरे करने वाले अश्विन (R Ashwin) भारत के तीसरे गेंदबाज हैं। उनसे पहले हरभजन सिंह और कुंबले ने ये कारनामा किया है। कुंबले ने हिंदुस्तान में कुल 350 टेस्ट विकेट लिए हैं, जबकि हरभजन का ये आंकड़ा 265 है। वैसे आपको बता दें अपना 250वां घरेलू टेस्ट विकेट पूरा करने के लिए अश्विन को काफी जद्दोजहद करनी पड़ी। दरअसल इंदौर टेस्ट में वो दो बार विकेट लेने से चूक गए। अश्विन (R Ashwin) की गेंद पर अजिंक्य रहाणे ने मोमिनुल हक और मुश्फिकुर रहीम का कैच टपकाया था हालांकि इसके बाद अश्विन ने बोल्ड कर इस कारनामे को अंजाम दे दिया। वैसे आपको बता दें अश्विन ने बांग्लादेश के खिलाफ ही अपना 250वां टेस्ट विकेट लिया था और अब घरेलू सरजमीं पर 250वां विकेट भी उन्होंने इसी टीम के खिलाफ ही पूरा किया है। घर पर 250 विकेट पूरे करने के बाद आर अश्विन ने बांग्लादेश को कुछ ही देर बार बहुत बड़ा झटका दिया। अश्विन (R Ashwin) ने महमदुल्लाह को 10 रनों पर बोल्ड कर भारत को पांचवीं और अपनी दूसरी सफलता हासिल की। इंदौर में टीम इंडिया ने गेंदबाजी तो अच्छी की है लेकिन उसकी फील्डिंग बेहद लचर रही है। विराट कोहली ने एक और उपकप्तान रहाणे ने 3 कैच टपकाए। वहीं, भारतीय टेस्ट टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने साफ कर दिया है कि वे बांग्लादेश को हल्के में लेने की भूल कतई नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि साउथ अफ्रीका पर 3-0 की टेस्ट सीरीज जीत अब बीती बात हो चुकी है। हम एक बार में सिर्फ एक ही मैच पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। हम बांग्लादेश की टीम का सम्मान करते हैं और उनके खिलाफ हम पूरी मजबूती से खेलेंगे। दोनों टीमों के बीच सीरीज का पहला टेस्ट गुरुवार 14 नवंबर से इंदौर के होल्कर स्टेडियम में होगा, जबकि दूसरा टेस्ट 22 नवंबर से कोलकाता में खेला जाएगा। ये टेस्ट डे-नाइट होगा और गुलाबी गेंद से खेला जाएगा।