AsianGames2018 : बोपन्ना-शरण की जोड़ी ने भारत को दिलाया छठा गोल्ड

AsianGames2018 : बोपन्ना-शरण की जोड़ी ने भारत को दिलाया छठा गोल्ड
AsianGames2018 : बोपन्ना-शरण की जोड़ी ने भारत को दिलाया छठा गोल्ड

Asian Games 2018 India Tennis Gold Medal Doubles Gold Rohan Bopanna Divij Sharan

नई दिल्ली। भारत के अनुभवी टेनिस खिलाड़ी रोहन बोपन्ना और दिविज शरण की जोड़ी ने भारत को स्वर्ण पदक दिलाया. रोहन बोपन्ना और दिविज शरण की जोड़ी ने कजाकिस्तान के डेनिस येवशेयेव और एलेक्जेंडर बब्लिक को 6-3, 6-4 से हराया। भारतीय जोड़ी ने 52 मिनट में खिताबी मुकाबला जीता।

भारत ने एशियाड में पुरुष युगल में आठ साल बाद स्वर्ण पदक जीता। इससे पहले 2010 में इंचियोन एशियाड में सोमदेव देववर्मन और सनम सिंह ने स्वर्ण जीता था। बोपन्ना ने पहली बार एशियाई खेलों में स्वर्ण जीता। दिविज का एशियाड में यह दूसरा पदक है। वे 2014 में युकी भांबरी के साथ कांस्य जीत चुके हैं।

एशियाड डबल्स में पांचवां गोल्ड मेडल

एशियाई खेलों में टेनिस की पुरुष युगल स्पर्धा में भारत को मिला यह पांचवां स्वर्ण पदक है। इससे पहले, भारत ने 1994, 2002, 2006, 2010 में सोना जीता था। बोपन्ना ने पहली बार एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता है, वहीं शरण ने 2014 में युकी भांबरी के साथ पुरुष युगल स्पर्धा में कांस्य पदक जीता था। मौजूदा खेलों में टेनिस में यह भारत का पहला स्वर्ण है।

इससे पहले सोमदेव देववर्मन और सनम सिंह ने डबल्स में साल 2010 ग्वांग्झू एशियाड में पीला तमगा जीता था। इसके अलावा महेश भूपति और लिएंडर पेस की जोड़ी ने 2002 और 2006 एशियन गेम्स में स्वर्ण अपने नाम किया था। पेस ने इस बार अपना पसंदीदा जोड़ीदार नहीं मिलने के कारण ऐन मौके पर खेलों से नाम वापस ले लिया था।

शुरुआत से ही बनाई मैच पर पकड़

बोपन्ना और शरण ने पहले सेट में अच्छी शुरुआत की। उन्होंने कजाकिस्तान के खिलाफ 3-0 से बढ़त बनाई। हालांकि, प्रतिद्वंद्वी टीम ने अच्छी वापसी की और स्कोर 5-3 कर लिया, लेकिन भारतीय जोड़ी ने अगला गेम जीतकर पहला सेट अपने नाम किया। दूसरे सेट में भारतीय जोड़ी संघर्ष करती दिखी। एक समय वह 1-2 से पिछड़ गई थी। हालांकि, इसके बाद बोपन्ना और शरण ने स्कोर 3-3 से बराबर किया। शानदार वापसी करते हुए 4-3 से बढ़त हासिल की। भारतीय जोड़ी ने इसके बाद प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ियों को सिर्फ एक सेट जीतने दिया और 6-4 से मुकाबला अपने नाम किया।

नई दिल्ली। भारत के अनुभवी टेनिस खिलाड़ी रोहन बोपन्ना और दिविज शरण की जोड़ी ने भारत को स्वर्ण पदक दिलाया. रोहन बोपन्ना और दिविज शरण की जोड़ी ने कजाकिस्तान के डेनिस येवशेयेव और एलेक्जेंडर बब्लिक को 6-3, 6-4 से हराया। भारतीय जोड़ी ने 52 मिनट में खिताबी मुकाबला जीता। भारत ने एशियाड में पुरुष युगल में आठ साल बाद स्वर्ण पदक जीता। इससे पहले 2010 में इंचियोन एशियाड में सोमदेव देववर्मन और सनम सिंह ने स्वर्ण जीता था। बोपन्ना ने…