असम: राहुल के ‘डंडे’ वाले बयान पर बोले मोदी, मेरे पास है मताओं, बहनो का सुरक्षा कवच

pm modi
आज बुंदेलखंड में होंगे PM मोदी, करेंगे 296 KM लंबे एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास

नई दिल्ली। असम के कोकराझार में बोडो शांति समझौते को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होने राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा। उन्होने राहुल के ‘डंडे’ वाले बयान पर जमकर हमला बोला। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कुछ नेता उन्‍हें डंडे मारने की बात करते हैं, लेकिन देश की माताओं और बहनों के आशीर्वाद से मैं बच जाऊंगा। पीएम मोदी ने कहा कि आज आप इतनी बड़ी तादाद में जब आशीर्वाद देने आए हैं, तो मेरा विश्वास और बढ़ गया है

Assam Modi Said On Rahuls Statement Of Poles I Have Friends Sisters Security Shield :

आपको बता दें कि बोडो समझौते पर 27 जनवरी को हस्ताक्षर हुए थे, उसी का जश्न मनाने के लिए एक बड़ी रैली का आयोजन किया गया था। पीएम मोदी ने कहा कि लोगों के सहयोग के कारण ही बोडो शांति समझौता हुआ और असम में शांति की नई सुबह हुई। मोदी ने कहा कि अब पूर्वोत्तर की शांति और विकास के लिए एक साथ मिलकर काम करने का वक्त है। गौरतलब है कि इस समझौते से असम में शांति कायम होने की उम्मीद की जा रही है। मोदी ने कहा, ‘हम अब हिंसा को लौटने नहीं देंगे।’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘झूठी अफवाहें फैलाई जा रही है कि सीएए लागू होने के बाद बाहर के लाखों लोग यहां आ जाएंगे। मैं असम के लोगों को आश्वस्त करता हूं कि ऐसा कुछ भी नहीं होगा।’ उन्होंने कहा, ‘बोडो समझौता समाज के सभी समुदायों और वर्गों के लिए जीत है। कोई भी हारा नहीं है।’ इस दौरान उन्होने कहा कि जिस मोदी को इतनी बड़ी मात्रा में माताओं-बहनों का सुरक्षा कवच मिला हो, उस पर कितने ही डंडे गिर जाएं, उसको कुछ नहीं होता।

ये कहा था राहुल गांधी ने
दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर लगातार सभी पार्टियों के नेता विवादित बयानबाजी कर रहे हैं। एक रैली के दौरान जनसभा को संबोधित करते हुए पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीते बुधवार को पीएम मोदी पर बेरोजगारी मुद्दे पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा, ”ये जो नरेंद्र मोदी भाषण दे रहा है, 6 महीने बाद ये घर से बाहर नहीं निकल पाएगा। हिंदुस्तान के युवा इसको ऐसा डंडा मारेंगे, इसको समझा देंगे कि हिंदुस्तान के युवा को रोजगार दिए बिना ये देश आगे नहीं बढ़ सकता।’

नई दिल्ली। असम के कोकराझार में बोडो शांति समझौते को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होने राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा। उन्होने राहुल के 'डंडे' वाले बयान पर जमकर हमला बोला। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कुछ नेता उन्‍हें डंडे मारने की बात करते हैं, लेकिन देश की माताओं और बहनों के आशीर्वाद से मैं बच जाऊंगा। पीएम मोदी ने कहा कि आज आप इतनी बड़ी तादाद में जब आशीर्वाद देने आए हैं, तो मेरा विश्वास और बढ़ गया है आपको बता दें कि बोडो समझौते पर 27 जनवरी को हस्ताक्षर हुए थे, उसी का जश्न मनाने के लिए एक बड़ी रैली का आयोजन किया गया था। पीएम मोदी ने कहा कि लोगों के सहयोग के कारण ही बोडो शांति समझौता हुआ और असम में शांति की नई सुबह हुई। मोदी ने कहा कि अब पूर्वोत्तर की शांति और विकास के लिए एक साथ मिलकर काम करने का वक्त है। गौरतलब है कि इस समझौते से असम में शांति कायम होने की उम्मीद की जा रही है। मोदी ने कहा, 'हम अब हिंसा को लौटने नहीं देंगे।' प्रधानमंत्री ने कहा, 'झूठी अफवाहें फैलाई जा रही है कि सीएए लागू होने के बाद बाहर के लाखों लोग यहां आ जाएंगे। मैं असम के लोगों को आश्वस्त करता हूं कि ऐसा कुछ भी नहीं होगा।' उन्होंने कहा, 'बोडो समझौता समाज के सभी समुदायों और वर्गों के लिए जीत है। कोई भी हारा नहीं है।' इस दौरान उन्होने कहा कि जिस मोदी को इतनी बड़ी मात्रा में माताओं-बहनों का सुरक्षा कवच मिला हो, उस पर कितने ही डंडे गिर जाएं, उसको कुछ नहीं होता। ये कहा था राहुल गांधी ने दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर लगातार सभी पार्टियों के नेता विवादित बयानबाजी कर रहे हैं। एक रैली के दौरान जनसभा को संबोधित करते हुए पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीते बुधवार को पीएम मोदी पर बेरोजगारी मुद्दे पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा, ''ये जो नरेंद्र मोदी भाषण दे रहा है, 6 महीने बाद ये घर से बाहर नहीं निकल पाएगा। हिंदुस्तान के युवा इसको ऐसा डंडा मारेंगे, इसको समझा देंगे कि हिंदुस्तान के युवा को रोजगार दिए बिना ये देश आगे नहीं बढ़ सकता।'