तेजस्वी एक बहाना था, नीतीश को बीजेपी के गोद में जाना था: लालू यादव

Lalu Prasad Yadav, लालू
चारा घोटाले के दुमका ट्रेजरी मामले में लालू को 14 साल की सजा, 60 लाख का जुर्माना

Attack Of Lalu Yadav On Nitish Kumar And Bjp

रांची। महागठबंधन टूटने के बाद आरजेडी प्रमुख लालू यादव नीतीश कुमार समेत बीजेपी पर जमकर हमला कर रहें है। लालू ने नीतीश को अवसरवादी नेता करार देते हुए संघ को भी आड़ें हाथों लिया। इस दौरान लालू ने कहा कि आरएसएस के लोगों ने गांधी की हत्या की है। उन्होंने कहा कि मोदी ने अच्छे दिन का झांसा दिया। मोदी ने कालाधन लाने का ढोंग रचा। बिहार के लोग बहुत जागरूक हैं।

चारा घोटाले में आज रांची के सीबीआइ कोर्ट में पेशी के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए लालू ने कहा कि बिहार ने लोगों ने भाजपा को खाली हाथ भेजा। गांव-गांव के हमारे कार्यकर्ता नाराज हैं। हम सत्ता के लोभी नहीं हैं। हमारा संघर्ष चलता रहेगा। जनता ही हमारा सहारा है।

इस दौरान लालू ने नीतीश कुमार पर भी निशाना साधा। उनके मुताबिक, अगर मुझे सत्ता का लालच होता तो नीतीश को सीएम न बनाता। नीतीश अवसरवादी नेता निकले। नीतीश का इतिहास रहा है सत्ता के लिए किसी के साथ समझौता करने का। हमलोगों ने समझा था कि वे सुधर गए, लेकिन धारणा गलत निकली।

उन्होने जेपी को याद करते हुए कहा कि देश में परिवर्तन की बयार जब भी बही है तो वह बिहार से ही शुरू हुई है, जेपी ने भी यह कर दिखाया था और अब हमे भी इन जुमलेबाजों को उखाड़ फेंकना है। नीतीश कुमार अवसरवादी नेता है, जिन्होने गोटी सेट करते हुए बिहार की जनता को छला है।

रांची। महागठबंधन टूटने के बाद आरजेडी प्रमुख लालू यादव नीतीश कुमार समेत बीजेपी पर जमकर हमला कर रहें है। लालू ने नीतीश को अवसरवादी नेता करार देते हुए संघ को भी आड़ें हाथों लिया। इस दौरान लालू ने कहा कि आरएसएस के लोगों ने गांधी की हत्या की है। उन्होंने कहा कि मोदी ने अच्छे दिन का झांसा दिया। मोदी ने कालाधन लाने का ढोंग रचा। बिहार के लोग बहुत जागरूक हैं। चारा घोटाले में आज रांची के सीबीआइ कोर्ट…