राहुल-अखिलेश का हल्लाबोल, PM मोदी पर जमकर कर साधा निशाना

गोरखपुर। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को गोरखपुर में मंच साझा करते हुए एक चुनावी रैली को संबोधित किया। इस दौरान दोनों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आड़े हाथों लेते हुए जमकर हमला किया। जहां एक तरफ राहुल ने कहा, ‘मोदीजी ऐसे बेटे हैं, जो मां से भी सौदा करता है।’ वहीं अखिलेश ने तंज़ करते हुए गधे वाले बयान पर कहा कि यूपी का कोई इंसान भला गधों की विशेषता क्यों जानना चाहेगा।




सभा को संबोधित करते हुए राहुल के तेवर कुछ अलग ही दिखे, इस दौरान राहुल ने पीएम मोदी पर हमला करते हुए कहा, “मोदीजी ने बोला था कि मित्रों गंगा मां ने मुझे बुलाया है, गंगा मां ने अपने बेटे को बनारस बुलाया है, पूरे हिंदुस्तान में गंगा मां का सिर्फ एक बेटा है, वो है नरेंद्र मोदी।”

राहुल ने आगे कहा, ‘उस वक़्त बेटे ने वादा किया- माताजी मैं आपका बेटा हूं, ये जो बेटा है मां से सौदा भी करता है। वादा कर रहा हूं, आप पहले मुझे पीएम बनाओ फिर आपका काम करूंगा। गंगा मां से बेटे ने कहा- गंगा को साफ कर दूंगा, घाटों को साफ कर दूंगा, काशी को साफ कर दूंगा, सोलर लाइट लगा दूंगा, फ्री इंटरनेट दे दूंगा, भोजपुरी फिल्म सिटी, बनारस में मेट्रो में बन गई,मां ने बेटे को पीएम तो बना दिया और बेटे ने मां के लिए एक काम नहीं किया।’ मोदीजी रिश्ता बनाते हो, भाई-चाचा, बेटे बनते हो, मोदीजी रिश्ता जताने से नहीं निभाने से बनता है।



वहीं भेदभाव के आरोप पर अखिलेश ने कहा कि इनके पास कोई काम नहीं है। बीजेपी वालों से सावधान रहना होगा, समाजवादियों ने कभी भेदभाव नहीं किया है, गोरखपुर में एक लाख से ज्यादा महिलाओं को पेंशन से जोड़ने का काम किया है और अभी 500 रुपए दे रहे हैं, सरकार बनी तो एक हजार रुपए दें। योगी पर हमला करते हुए कहा कि बाबा और बीजेपी के लोग कह रहे हैं कि लैपटॉप बांटने में भेदभाव किया है। हम कहना चाहेंगे कि लैपटॉप और विद्याधन दिया है वो पाने वाले इसका जवाब दें।



इस गठबंधन के बाद से मोदी जी को डर सताने लगा है इसीलिए वे नफरत की बात कर रहे है। मोदी के डीएनए में गुस्सा, नफरत, क्रोध है। इस गठबंधन की वजह से छटपटाहत देखने को मिल भी रहा है।